24kk2कोलंबो, 24 अगस्त. श्रीलंका के महान बल्लेबाज कुमार संगकारा ने आज भावभीनी विदाई समारोह में आंसुओं पर काबू रखने की पूरी कोशिश की. उनकी भावुकता को भारत के पूर्व दिग्गज सुनील गावस्कर ने कम करने की पूरी कोशिश की. गावस्कर ने जैसे ही उन्हें ‘पूर्व क्रिकेटरों के क्लबÓ स्वागत किया वो अपनी हंसी रोक नहीं पाए. वहीं श्रीलंकाई राष्ट्रपति ने तो उन्हें ब्रिटेन में उच्चायुक्त के पद की पेशकश कर डाली.

श्रीलंका के इस चहेते सपूत की क्रिकेट से विदाई हालांकि जीत के साथ नहीं हुई. भारत ने दूसरे टेस्ट में श्रीलंका को 278 रन से हराकर वापसी की.

मैच के बाद विदाई समारोह में सभी हस्तियों ने एक के बाद एक उन्हें स्मृति चिन्ह भेंट किये और शुभकामनायें दी. संगकारा के चेहरे पर मुस्कुराहट देखी जा सकती थी. अपने धन्यवाद भाषण में उन्हें अपने पूर्व स्कूल के प्रिंसिपल से लेकर कोचों और भारतीय टीम को भी धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा कि लोग मुझसे बड़ी उपलब्धियों के बारे में सवाल करते हैं, शतक, विश्व कप जीत लेकिन मैं उपर दर्शक दीर्घा में देखता हूं तो पिछले 30 साल के मेरे सारे दोस्त आज मेरा खेल देखने आये हैं. मैं चाहे जीतूं या हारूं लेकिन मेरे परिवार का प्यार बरकरार रहा जो सबसे बड़ी उपलब्धि है.

Related Posts: