राजस्व निरीक्षक से भी किया अभद्र व्यवहार

सीहोर जमीन की नप्ती कराने गए राजस्व निरीक्षक और पटवारी की मौजूदगी में दो परिवारों के बीच खूनी संघर्ष की स्थिति निर्मित हो गई, जिसमें पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने दोनों पक्षों के 14 लोगों के खिलाफ हत्या की कोशिश का आपराधिक प्रकरण कायम कर लिया है.

पुलिस से मिली जानकारी अनुसार ग्राम हतलेवा निवासी विजय गौर आत्मज रामेश्वर प्रसाद गौर और रघुनंदन गौर आत्मज मेघराज गौर की जमीन की नप्ती कराने के लिए राजस्व निरीक्षक और पटवारी पहुंचे थे. राजस्व अमला नपती करा ही रहा था कि दोनों परिवारों के बीच विवाद के हालात निर्मित हो गए.

इनकी मौजूदगी में ही दोनों परिवारों के बीच खूनी संघर्ष हो गया. दोनों तरफ से जमकर लाठी फर्से और तलवार का उपयोग किया गया. इस संघर्ष में विजय गौर के पिता रामेश्वर और चाचा रतन को गंभीर चोंट आई, जबकि रघुनंदन गौर के पिता मेघराज, माता दुर्गा देवी और चाचा मिश्रीलाल गंभीर रूप से घायल हो गए.

सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है.
पुलिस ने विजय गौर की रिपोर्ट पर रघुनंदन गौर, राकेश गौर, मेघराज गौर, मिश्री लाल गौर, मोहन लाल गौर, दुर्ग बाई गौर के खिलाफ और रघुनंदन गौर की रिपोर्ट पर रामेश्वर गौर, रतन लाल गौर, विजय गौर, विजय गौर, अजय गौर, जितेन्द्र गौर, संजीव गौर, अंगूरी बाई गौर, किरण गौर के खिलाफ भादवि की धारा 147, 148, 294, 323, 506, 307 के अंर्तगत अपराधिक प्रकरण कायम कर लिया है.

इसी मामले में राजस्व निरीक्षक किशोरी लाल शेलू आत्मज हरिराम के साथ मारपीट करने और शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने के आरोपी मेघराज गौर, रघुनंदन गौर, मिश्रीलाल गौर, मोहन लाल गौर के खिलाफ पुलिस ने शासकीय कार्य में व्यवधान की धारा 353 के अंर्तगत अपराधिक प्रकरण कायम कर लिया है.

Related Posts:

मोदी के बजाय शिवराज बेहतर दावेदार
घर बैठे मतदाता सूची में नाम जोडऩे हेल्प लाईन अभियान जारी
प्रदेश भर में 9 जून से 15 जून तक स्कूल चलो अभियान
व्यावसायिक परीक्षा मंडल की 35 परीक्षाओ में 3 लाख आवेदक
बैतूल में सुबह की सैर पर निकले तीन बुजुर्गों को वाहन ने कुचला
13 साल की बच्ची का कराया निकाह काजी सहित तीन पुलिस गिरफ्त में