shariffइस्लामाबाद,  पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ ने पाकिस्तान में रह रहे हिंदुओं को विश्वास दिलाते हुये कहा कि यदि उनके साथ कुछ बुरा होता है और जुल्म करने वाला मुसलमान हो तो वह हिंदुओं के साथ खड़े होंगे.

शरीफ ने कराची में कल दीपावली के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि यह उनकी जिम्मेदारी है कि अगर कोई ज़ुल्म का शिकार है तो उसका संबंध चाहे किसी भी धर्म या संप्रदाय से हो उसकी सहायता की जाए. पाकिस्तानी मीडिया में जारी रिपोर्टों के मुताबिक, पाकिस्तान में पहली बार किसी प्रधानमंत्री ने हिंदुओं के त्योहार में शिरकत की है.

शरीफ ने कहा, हिंदू के खिलाफ़ जुल्म होता है और जुल्म करने वाला मुसलमान है, तो मैं मुसलमान के खिलाफ कार्रवाई करुंगा. मेरा मज़हब मुझे यही सिखाता है और सिर्फ़ इस्लाम ही नहीं हर मज़हब यही सिखाता है कि ज़ालिम का नहीं, मज़लूम का साथ दो. च्च् पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने कहा, च्च्हम एक क़ौम और मुल्क हैं, जितना हो सके आपस में एकता पैदा करें. एक दूसरे की मदद करें. मुसलमान हिंदुओं से ख़ुशियां बांटे और हिंदू नागरिक मुसलमानों और सिखों से. रब इसमें राज़ी नहीं है कि हम एक दूसरे में फर्क़ करें.