bullet_trainटोक्यो,  भारत की पहली बुलेट ट्रेन बनाने के अधिकार जापान को मिल सकता है।
बिजनेस समाचार पत्र निक्की की आज की एक रिपोर्ट के अनुसार बुलेट ट्रेन के निर्माण में 980 अरब की लागत आएगी और जापान इसके निर्माण के लिए 8.11 अरब डॉलर से अधिक का ऋण देने की पेशकश करेगा। इससे पहले जापान इंडोनेशिया की हाई स्पीड रेल बनानें की दौड में शामिल था लेकिन चीन ने इसके लिए बिना किसी गैरेंटी के पांच अरब का ऋण दे कर बाजी मार ली।

रिपोर्ट में कहा गया है कि प्रधानमंत्री शिंजो आबे का इस सप्ताह भारत जाने का कार्यक्रम है और माना जाना रहा है कि इसी दौरान दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों के बीच इस संबंध में कोई समझौता हो सकता है। मुंबई और अहमदाबाद के बीच 505 किलोमीटर लंबी इस रेल लाइन के निर्माण का कार्य 2017 से शुरू हो कर 2023 में समाप्त होने की संभावना है।

Related Posts:

जूनियर डॉक्टर हड़ताल पर गए तो हाथ काट देंगे!
जेटली ने अमेरिका के मंत्रियों के साथ द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा की
पहले शाही स्नान के साथ हुआ सिंहस्थ का आगाज
सिंधु जल समझौते के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका
विवाह बंधन में महिलाओं को मिले बराबर अधिकार : मेनका
झूठा उपवास छोड़, राजनीतिक वनवास लें शिवराज : कांग्रेस