नयी दिल्ली,  कांग्रेस वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) लागू करने के लिए 30 जून की आधी रात को संसद के केंद्रीय कक्ष में आयोजित किए जा रहे समरोह में हिस्सा नहीं लेगी।

कांग्रेस सूत्रों ने यूनीवार्ता को बताया कि पार्टी ने इस कार्यक्रम में शामिल नहीं होने का फैसला लिया है और इस बारे में जल्द ही औपचारिक घोषणा कर दी जाएगी।
कांग्रेस के साथ ही कुछ अन्य दलों ने भी इस समारोह में शामिल नहीं होने का फैसला किया है। तृणमूल कांग्रेस ने

भी साफ कर दिया है कि पार्टी समारोह में हिस्सा नहीं लेगी। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी ने भी कहा है कि वह खुद समारोह में हिस्सा नहीं लेंगे लेकिन पार्टी के सांसदों को इसमें शामिल होना है या नहीं, यह उन पर निर्भर करता है। पार्टी ने इस संबंध में अपने सांसदों के लिए ह्विप जारी नहीं किया है।

Related Posts: