pic1नयी दिल्ली,  कांग्रेस के सांसदों तथा गुजरात से पार्टी विधायकों के प्रतिनिधि मंडल ने आज राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से मुलाकात की और गुजरात राज्य पेट्रोलियम निगम(जीएसपीसी) में हुई गड़बडियों के बारे में उन्हें एक ज्ञापन सौंप कर मामले की न्यायिक जांच कराने की मांग की।

ज्ञापन में नियंत्रक और महालेखा परीक्षक (कैग) की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा गया है कि सार्वजनिक क्षेत्र की इस कंपनी ने जनता के पैसे का दुरुपयोग किया है और निजी कंपनियों को फायदा पहुंचाया है।

कैग की 31 मार्च 2015 की रिपोर्ट का हवाला देते हुए पार्टी ने आरोप लगाया है कि कंपनी ने केजी बेसिन पर सार्वजनिक निधि के 19576 करोड़ रुपए खर्च किए हैं लेकिन अब तक इस कंपनी ने गैस का वाणिज्यिक कार्य के लिए उत्पादन भी शुरू नहीं किया है।

Related Posts: