mp1ग्वालियर,  ग्वालियर विकास प्राधिकरण में एक प्लॉट क्रय करने की अनुमति देने के एवज में पांच हजार रूपए की रिश्वत मांगने वाले एक बाबू सहायक ग्रेड वर्ग तीन विजय दुबे को आज शाम लोकायुक्त पुलिस ग्वालियर ने रंगे हाथों धर दबोचा है। लोकायुक्त पुलिस ने भ्रष्टाचार अधिनियम की धाराओं में मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त अमित सिंह ने बताया कि संजय द्विवेदी नामक युवक ने लोकायुक्त पुलिस कार्यालय आकर शिकायत की कि जीडीए में सहायक ग्रेड वर्ग तीन का बाबू विजय दुबे जीडीए का प्लॉट खरीदने की अनुमति देने के लिए दस हजार रूपए की श्श्वित मांग रहा था। लोकायुक्त पुलिस ने टेप रिकार्डर के साथ जब फरियादी संजय को भेजा तो बातचीत के बाद वह पांच हजार रूपए लेने को तैयार हो गया। आज शाम लगभग पांच बजे जैसे ही संजय ने बाबू विजय दुबे को पांच हजार रूपए थमाए वैसे ही पास खडी लोकायुक्त की टीम के डीएसपी आरबी शर्मा , इंस्पेक्टर रानीलता नामदेव, शैलेन्द्र गोविल, राजीव गुप्ता, आरक्षक विनोद छारी, संतोष सिंह परिहार, धीरज नायक, अमर सिंह गिल, बलवीर सिंह ने बाबू को धर दबोचा । बाबू के हाथ धुलवाने पर वह लाल रंग से रंगे निकले।
लोकायुक्त पुलिस ने आरोपी बाबू के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धाराओं में मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

Related Posts: