arun1वाशिंगटन, 21 जून. वित्त मंत्री अरूण जेटली ने यहां अमेरिका के शीर्ष अधिकारियों के साथ मुलाकात कर प्रमुख द्विपक्षीय मुद्दों पर भारत की चिंता उनके सामने रखी जिसमें टोटलाइजेशन समझौता और प्रस्तावित द्विपक्षीय निवेश संधि शामिल है।

अमेरिकी वित्त मंत्री जैक ल्यू, वाणिज्य मंत्री पेनी प्रित्जकर और अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि माइक फ्रोमैन के साथ विभिन्न बैठकों में जेटली ने पारस्परिक हितों व चिंताओं के मुद्दों पर चर्चा की। वित्त मंत्री ने कहा पिछले एक साल में दोनों देशों की सरकारों के बीच निरंतर बातचीत होती रही है। नौ दिन की अमेरिका यात्रा पर आए जेटली ने भारत के महत्वपूर्ण टोटलाइजेशन समझौते सहित कुछ महत्वपूर्ण मुद्दों को भी उठाया। टोटलाइजेशन समझौते का उद्देश्य अमेरिकी सामाजिक सुरक्षा में सालाना एक अरब डालर से अधिक का योगदान करने वाले भारतीय मूल के पेशेवरों के हितों की रक्षा करना है।

Related Posts: