राजकोट,

संसद के शीतकालीन सत्र को लेकर जारी अनिश्चितता के बीच केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली ने आज साफ तौर पर कहा कि यह सत्र जरूर होगा।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के गृहराज्य गुजरात में अगले माह होने वाले विधानसभा चुनाव के चलते कथित तौर पर अब तक सत्र आहूत नहीं किये जाने के विपक्ष के आरोपों के बीच श्री जेटली ने आज यहां कहा कि चुनाव के चलते संसद के सत्र को पुननिर्धारित करने का काम पहले भी हुआ है।

स्वयं कांग्रेस भी अपनी सरकार के दौरान ऐसा किया है। ऐसा 2011 में भी किया गया था। शीतकालीन सत्र निश्चित तौर पर होगा।

उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस नीत संप्रग की 2004 से 2014 तक की सरकार सबसे भ्रष्ट सरकार थी जबकि मोदी सरकार अब तक की सबसे ईमानदार सरकार है। कांग्रेस जबरदस्ती इस सच को झूठ में नहीं बदल सकती।

गुजरात के चुनाव प्रभारी के तौर पर यहां मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के नामांकन के मौके पर उपस्थिति के लिए आये श्री जेटली ने कहा कि राज्य में इस बार चुनाव अराजक और समाज को बांटने वाले विभाजनकारी तत्वों का प्रतिनिधित्व कर रही कांग्रेस और स्थायित्व और विकास का चेहरा बने भाजपा के बीच है।

भाजपा अच्छी खासी सीटें जीत कर एक बार फिर विजयी रहेगी। उन्होंने हार्दिक पटेल के संगठन पास तथा कांग्रेस के गठजोड़ को अराजक और समाज को बांटने वाला करार दिया।

Related Posts: