biharपटना,  बिहार इंटरमीडियेट की परीक्षा में टॉपर्स फर्जीवाड़ा मामले के जेल में बंद मास्टर माइंड अमित कुमार उर्फ बच्चा राय के वैशाली जिले के कीरतपुर स्थित घर पर विशेष जांच दल (एसआईटी) ने छापेमारी कर 20 लाख रूपये से अधिक का जेवरात और एक लाख रूपया बरामद किया है ।

एसआईटी की जांच में शामिल पुलिस अधीक्षक (नगर) चंदन कुशवाहा ने आज यहां बताया कि बच्चा के कीरतपुर स्थित घर पर छापेमारी की गयी । छापेमारी के दौरान बच्चा के घर की तलाशी के क्रम में 20 लाख रूपये से अधिक के जेवरात और एक लाख रूपया बरामद किया गया । छापेमारी लगभग चार घंटे तक चली ।

उल्लेखनीय है कि टॉपर्स फर्जीवाड़ा के मामले में छह जून को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर शिक्षा विभाग की ओर से पटना के कोतवाली थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी । प्राथमिकी दर्ज होने के बाद छह दिनों तक बच्चा भूमिगत रहा और एसआईटी की दबिश को देखते हुए उसने नाटकीय ढ़ंग से वैशाली जिले के कीरतपुर स्थित अपने विशुनदेव राय इंटरमीडियेट कॉलेज के निकट आत्मसमर्पण किया था ।

इसी मामले में बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के पूर्व अध्यक्ष लालकेश्वर प्रसाद सिंह और उनकी पत्नी एवं पूर्व विधायक ऊषा सिन्हा के खिलाफ कल ही पटना के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत ने गिरफ्तारी का वारंट जारी किया है । दोनों पति-पत्नी एक साथ फरार हैं ।