पुलिस जुटी मामले की जांच में

नवभारत न्यूज भोपाल,

गौतम नगर पुलिस ने शादी करने के बाद जेवरात लेकर भागने वाली लुटेरी दुल्हन व उसके एक महिला सहयोगी को गिरफ्तार कर लिया है, वहीं अन्य की तलाश में पुलिस जुटी हुई है. पुलिस को यह भी सामने आया है कि इनका एक गिरोह है, जो इस तरह से लोगों को शादी का झांसा देकर उनसे पैसे भी ऐंठता है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है.

गौतम नगर पुलिस के मुताबिक ग्राम उमरिया जिला धार निवासी जीवन जाट उम्र 28 वर्ष जो कि पेशे से किसान है. फरवरी 2017 में एक पंडित के माध्यम से उसका रिश्ता गौतम नगर में रहने वाली माही नाम की युवती से तय हुआ था. उस समय जीवन को बताया गया था कि युवती गौतम नगर में अपने चाचा राजेश सिंह, चाची शीला सिंह और भाई सतेंद्र सिंह के किराए के घर में रहती थी.

इसके बाद जीवन व उसके परिजन आए और इनका रिश्ता तय हो गया. आर्थिक मजबूरी बताने पर वर पक्ष ने शादी का पूरा खर्चा भी उठाया और राजेंद्र सिंह जो कि मध्यस्ता था उसे 70 हजार रुपए भी दिए. शादी के बाद संबंध बनाने की बात पर युवती ने एक मन्नत का बहाना बनाकर मना कर दिया था.

3 नवंबर को राजेंद्र सिंह का उसके पास फोन आया और बोला कि भोपाल में कार्यक्रम रखा है, माही को लेकर आ जाओ. इसके बाद वे परिवार सहित भोपाल पहुंचे, लेकिन इन लोगों ने भोपाल में कोर्ट मेंं शादी की लिखा पड़ी कराने की बात कही और मौका पाकर ये लोग दुल्हन को जेवरात सहित वहां से लेकर रफू चक्कर हो गए. बताया जा रहा है कि यह लोग दुल्हन को ब्यूटी पार्लर ले जाने के लिए वहां से निकले थे.

बाद में जब जीवन गौतम नगर मकान पर पहुुंचा तो पता चला कि वे यहां से मकान खाली कर गए हंै, जिसके बाद परिजनों ने थाने में धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने दुल्हन व उसकी सहयोग महिला को गिरफ्तार कर लिया है.

जिसे बताया था भाई वह निकला प्रेमी

मजे की बात तो यह है कि जिसे दुल्हन ने शादी के समय अपना भाई बताया था वह उसका प्रेमी निकला. साथ ही जिसे दुल्हन का चाचा चाची बताकर मुलाकात कराई गई थी, वे गिरोह के सदस्य निकले. पुलिस को यह भी सामने आया है कि इसका मास्टरमांइड राजेंद्र सिंह है जो ऑटो चालक है.

पुलिस ने टीलाजमालपुरा क्षेत्र से गिरफ्तार किया है, मूलत: ये सभी आष्टा के रहने वाले हैं. पुलिस को यह भी सामने आया है कि ये लोग गिरोह बनाकर इस तरह की वारदात को अंजाम देते हैं. पुलिस फरार आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है.