पटना,

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने केन्द्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के आरोपित पुत्र अर्जित शाश्वत की गिरफ्तारी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तंज कसते हुए आज कहा कि लालू प्रसाद यादव ने देश को साम्प्रदायिक हिंसा से बचाने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता लाल कृष्ण आडवाणी को गिरफ्तार कर लिया था लेकिन मुख्यमंत्री से अर्जित की गिरफ्तारी नहीं हो पा रही है।

श्री यादव ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर लिखा,“लालू जी ने देश को सांप्रदायिक हिंसा से बचाने के लिए आडवाणी जी को गिरफ़्तार किया था लेकिन बिहार को बचाने के लिए नीतीश जी से चौबे जी का लड़का गिरफ़्तार नहीं हो रहा। ऊपर से ज्ञान बाँट रहे हैं।”

इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने सोमवार को नेता प्रतिपक्ष को सलाह देते हुये कहा था कि किसी भी मुद्दे को सावधानी से उठायें और वैसे मुद्दों को उठाने से तो अवश्य परहेज करें जो समाज में तनाव उत्पन्न करे।

उन्होंने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव से कहा, “आपका राजनीतिक करियर अभी काफी लंबा है, इसलिए यह सीखने की जरूरत है कि कौन से मुद्दे उठाये जायें और कौन नहीं।”

उल्लेखनीय है कि भागलपुर जिले के नाथनगर उपद्रव मामले में अदालत ने केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री के पुत्र अर्जित शाश्वत चौबे समेत नौ आरोपियों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है।

Related Posts: