bpl2भोपाल,  मध्यप्रदेश पुलिस की अपराध शाखा भोपाल ने शहर के विभिन्न बाजारों की दुकानों को निशाना बनाने वाले दो नकबजनों को पकड लिया है। इनसे शहर में हुई छह नकबजनी की वारदातों का खुलासा हुआ है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक क्राइम ब्रान्च को दो लड़कों के जहाॅगीराबाद में सोने-चांदी के जेवर बेचने के लिए खडे होने की जानकारी मिली थी। दोनों बातचीत से संदिग्ध लग रहे है। सूचना पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने दोनों को धर दबोचा। दोनों ने अपना नाम धनराज लोवंशी और अनिल वाल्मीकी बताया। दोनो संदेहियों से सोने चांदी के जेवरों के संबंध में कडाई से पूछताछ की गई तो दोनो ने जेवरात जहांगीराबाद के भीमनगर से एक दुकान से चोरी करना स्वीकार किया। पूछताछ पर दोनों ने चोरी की एक दर्जन से अधिक वारदातें एमपीनगर, गोविंदपुरा, रातीबड एवं मंडीदीप क्षेत्र मेें करना स्वीकार किया।

पुलिस ने आरोपियों के बताये अनुसार दोनों से कुल छह वारदातों का सामान बरामद किया। शेष के संबंध में पुलिस रिमांड लिया जाकर कार्रवाई की जाएगी।
गिरफ्तार धनराज ने बताया कि वह 2014 में थाना गोविंदपुरा एवं बागसेवनियां सें नकबजनी के अपराध में गिरफ्तार होकर जेल की हवा खा चुका है। बाद में उसने बच्चाें को इकट्ठा कर नकबजनी करना शुरू किया था जिसमें वह गिरफ्तार हो चुका था। जेल में उसकी मुलाकात झगडे के आरोप में जेल की हवा खा रहे अनिल से हुई। जेल से रिहा होने के बाद दोनो ने गैंग बना ली।

Related Posts:

बरखेडा पठानी अमरावद खुर्द मार्ग होगा दुरस्त
कमला नेहरू चिकित्सालय में डेन्टल यूनिट
समय पर हो उच्च गुणवत्तापूर्ण उत्पादन व आपूर्ति: राव
देश की खुशहाली के लिए की सामूहिक अरदास
मीडिया में सही संदर्भों के साथ दें समाचार : श्रीवास्तव
महिला सुरक्षा को लेकर मध्यप्रदेश विधानसभा में कांग्रेस का हंगामा, कार्यवाही दिन ...