12as1भोपाल, 12 अगस्त. मुख्यमंत्री शिवराज ङ्क्षसह चौहान ने नगर निगम भोपाल द्वारा जेएनएनयूआरएम अंतर्गत बीएसयूपी के तहत शहरी गरीबों के लिये विभिन्न क्षेत्रों में निर्मित पक्के आवासों का आधिपत्य पात्र हितग्राहियों को सौंपने हेतु 12 नंबर स्टॉप इंद्रा नगर में आयोजित समारोह में कहा कि शहरी गरीबों को पक्के आवास हेतु अपने अंश की राशि के लिये बैंक से ऋण लेने पर 10 प्रतिशत के स्थान पर 5 प्रतिशत की दर से ब्याज देना होगा और 5 प्रतिशत राशि राज्य शासन द्वारा दी जायेगी.

मुख्यमंत्री चौहान ने महापौर आलोक शर्मा की मांग पर इंद्रा नगर फेस-1 के उक्त आवासीय परिसर का नामकरण स्व. कुशाभाऊ ठाकरे के नाम पर करने की घोषणा की. इससे पहले मुख्यमंत्री चौहान ने इंद्रा नगर में निर्मित पक्के आवासों का अवलोकन भी किया. महापौर आलोक शर्मा ने कहा कि नगर निगम द्वारा शहर में 50 हजार पक्के आवास झुग्गीवासियों के लिये बनाये जायेंगे. समारोह में मुख्यमंत्री चौहान ने 54 पात्र हितग्राहियों को अपने हाथ से आधिपत्य पत्र एवं आवास की चाबियां सौंपी. निगम द्वारा बुधवार को शहर के विभिन्न क्षेत्रों में शहरी गरीबों के पक्के आवास आवंटित करने की योजना के तहत इंद्रा नगर फेस-1, बाबा नगर, अर्जुन नगर, राहुल नगर, गंगा नगर, आराधना नगर, श्याम नगर, कल्पना नगर, मद्रासी कॉलोनी में निर्मित आवासों का लगभग 2300 पात्र हितग्राहियों को आधिपत्य सौंपा गया. समारोह में विधायक सुरेंद्रनाथ ङ्क्षसह, परिषद अध्यक्ष डॉ. सुरजीत ङ्क्षसह चौहान, नगरीय प्रशासन एवं विकास आयुक्त विवेक अग्रवाल, कलेक्टर निशांत वरवड़े, निगम आयुक्त तेजस्वी एस. नायक, महापौर परिषद के सदस्य कृष्णमोहन सोनी, मंजूश्री बारकिया, दिनेश यादव, महेश मकवाना, भूपेंद्र माली, सुरेंद्र बाडीका, जोन अध्यक्ष बाबूलाल यादव, स्थानीय पार्षद सुषमा बावीसा, संतोष हिरवे, लक्ष्मी गोरेवर सहित अन्य पार्षदगण, गणमान्य नागरिक और अधिकारी मौजूद थे.

Related Posts: