ढाई घंटे चली मैराथन बैठक,

कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक के बाद राहुल गांधी का हमला

नई दिल्ली,

कांग्रेस की कमान संभालने के बाद राहुल गांधी ने शुक्रवार को कांग्रेस वर्किंग कमिटी की पहली बैठक में उन्होंने बीजेपी और प्रधानमंत्री पर तीखा हमला बोला.

उन्होंने कहा कि बीजेपी की बुनियाद ही झूठ की बुनियाद पर है. प्रधानमंत्री पर हमला करते हुए गांधी ने कहा कि वह राफेल डील और अमित शाह के बेटे से जुड़े सवालों पर कुछ नहीं बोलते. उन्होंने कहा कि 2जी की सच्चाई सबके सामने है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि जब वह गुजरात गए और लोगों से मिले तो मोदी मॉडल का झूठ खुलता चला गया. उन्होंने आरोप लगाया कि अमित शाह के बेटे 50 हजार रुपये को 3 महीने में 80 करोड़ में बदल देते हैं लेकिन प्रधानमंत्री कुछ नहीं बोलते.

राफेल डील पर सवाल उठाते हुए गांधी ने कहा कि एक उद्योगपति को फायदा पहुंचाने के लिए राफेल डील को बदला गया. पूरी प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया. कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि उन्होंने इस पर प्रधानमंत्री से 3 सवाल पूछे लेकिन पीएम ने जवाब नहीं दिया.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी की पूरी संरचना ही झूठ के बुनियाद पर है. उन्होंने कहा कि बीजेपी का पूरा का पूरा फाउंडेशन ही झूठ का फाउंडेशन है.

उन्होंने कहा, चाहे आप मोदी मॉडल देखें, खातों में 15 लाख रुपये देने का मॉडल देखें, किसानों को उनके उत्पाद के वाजिब दाम देने का मामला हो- सब कुछ झूठ के बुनियाद पर स्थित है. जीएसटी झूठ, गब्बर सिंह टैक्स झूठ, नोटबंदी झूठ…सब कुछ झूठ की बुनियाद पर. 2 जी घोटाले पर कोर्ट के फैसले पर राहुल ने कहा कि सच्चाई सबके सामने है.

राहुल के नेतृत्व में मुखर होकर संघर्ष करेगी कांग्रेस

कांग्रेस कार्यसमिति ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर चंद वोटों के लिए देशद्रोह” का आरोप लगाने तथा 2जी घोटाले में झूठ का तानाबाना बुनकर संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार को बदनाम करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा भारतीय जनता पार्टी की कड़ी भत्र्सना की है और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में पार्टी को मजबूत बनाने के लिए जनता के बीच जाकर संघर्ष तेज करने का ऐलान किया है.

कांग्रेस की बागडोर संभालने के बाद गांधी की अध्यक्षता में पार्टी की सर्वोच्च नीति निर्धारक इकाई कार्य समिति की पहली बैठक करीब ढाई घंटे चली जिसमें करीब डेढ़ घंटे मौजूदा राजनीतिक हालात पर चर्चा की गयी.

पार्टी अध्यक्ष के नेतृत्व में जनता के बीच जाकर कांग्रेस की परंपरा के अनुसार संघर्ष की परिपाठी को और तेज करने तथा मुखर होकर जनाधार बढ़ाने के लिए काम करने का फैसला किया गया ताकि आने वाले चुनावों में पार्टी आसानी से जीत हासिल करे. इस मुद्दे पर कार्य समिति के सभी सदस्य एकमत थे.

बैठक के बाद संचार विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि इसमें गुजरात चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डॉ सिंह, पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, पूर्व सेना प्रमुख दीपक कपूर तथा कई प्रमुख राजनयिकों पर चंद वोटों के लिए ‘राजद्रोह’ का आरोप लगाने पर गंभीर चिंता व्यक्त की गयी.

उन्होंने कहा मोदी ने इससे जिस तरह जनमत और संसद का अपमान किया है तथा देश के प्रमुख लोगों पर आरोप लगाए हैं और अपने संबंधित बयान को वापस नहीं लिया है वह निंदनीय है.

 

Related Posts: