isis-releasedनई दिल्ली/बेंगलुरु,  2 अगस्त. दुनिया की सबसे खूंखार आतंकी संगठन आईएसआईएस के चंगुल से छूटे दो भारतीयों ने जो आपबीती बताईं वो वाकई दिलचस्प और आईएसआईएस आतंकियों की दरियादिली को साबित करती है।

इनका कहना है कि जब आतंकियों को पता चला कि ये लोग पेशे से शिक्षक हैं तो उनका व्यवहार एकदम से बदल गया। आतंकियों ने कहा कि वे टीचर्स की बहुत इज्जत करते हैं और इसलिए उन्हें नहीं मारेंगे।  गौरतलब है कि इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने लीबिया के शहर सिर्त से चार भारतीयों को अगवा कर लिया था। इनमें से दो को रिहा किया जा चुका है।

Related Posts: