03kkकोलंबो/चेन्नई, 3 अगस्त. टेस्ट कप्तान के तौर पर अपनी पहली संपूर्ण तीन मैचों की सीरीज के लिये श्रीलंका दौरे पर भारतीय टीम का नेतृत्व कर रहे विराट कोहली आज यहां टीम इंडिया के साथ पहुंच गये.

पूरे खिलाडिय़ों में जहां जोश देखा गया वहीं उम्मीद जताई जा रही है कि हाल ही में पाकिस्तान के खिलाफ जिस प्रकार का प्रदर्शन मेजबान देश की टीम ने किया उसे देखते हुये ऐसा महसूस किया जा रहा है कि भारतीय सेना को श्रीलंका में अधिक परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा. टीम को पहुंचने के बाद कड़ी सुरक्षा में होटल ले जाया गया जहां खिलाडिय़ों का स्वागत श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के अधिकारियों ने किया. अब सवाल उठता है कि विराट सेना श्रीलंका में 22 साल का सूखा समाप्त कर पायेगी या नहीं. हाल ही में जिस प्रकार पाकिस्तान की टीम ने श्रीलंका को हराया उसे देखते हुये भारतीय टीम का जहां पलड़ा भारी दिख रहा है वहीं श्रीलंका के धाकड़ बल्लेबाज कुमार संगकारा के संन्यास के लिये मेजबान टीम अपनी पूरी शक्ति लगा सकती है.

इससे पहले चेन्नई से रवाना होने से पूर्व टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि उनकी योजना श्रीलंका में पांच गेंदबाजों को उतारने की रहेगी. विराट ने श्रीलंका के लिये रवाना होने से पहले रविवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मैं पांच गेंदबाजों को खेलाने के पक्ष में हूं, जिससे उन्हें मैच में 20 विकेट लेने का मौका मिले. इसके अलावा तीन स्पिनरों को भी सीरीज में मौका दिया जा सकता है.

टेस्ट कप्तान ने गेंदबाजी रणनीति को लेकर कहा कि टेस्ट मैच जीतने के लिये एक मजबूत गेंदबाजी आक्रमण की जरूरत होती है और यह काफी रोमांचक और संतोषजनक होता है. हां मैं तीन स्पिनरों को मौका दे सकता हूं. हमारी योजना टेस्ट में 20 विकेट निकालने की रहेगी. मेरा मानना है कि अपनी टीम के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों को मौका देना चाहिये.

विराट ने कहा कि यदि आपकी टीम अधिक विकेट लेना चाहती है तो इसके लिये अपने गेंदबाजों को मौका देना होगा. मेरी योजना श्रीलंका के खिलाफ पांच गेंदबाजों को उतारने की रहेगी और शीर्ष छह को सबसे अधिक जिम्मेदारी लेनी होगी. स्टार बल्लेबाज ने कहा कि मुझे लगता है कि श्रीलंका सीरीज मुझे अपनी योजनाओं को लागू करने में भी मदद करेगी. हम तीन टेस्टों की सीरीज में खुद की समीक्षा कर सकेंगे कि हम जो चीजें करना चाहते हैं उन्हें किस स्तर तक कर सकते हैं. मुझे लगता है कि एकमात्र टेस्ट में खुद को परख पाना संभव नहीं होता है.

 

Related Posts: