1000सिडनी. भारतीय टीम का लगातार दूसरा विश्व कप जीतने का सपना तोड़कर आस्ट्रेलिया ने दूसरे सेमीफाइनल में उसे 95 रन से करारी शिकस्त देकर फाइनल में प्रवेश किया जहां उसका सामना सह मेजबान न्यूजीलैंड से होगा। स्टीवन स्मिथ के शतकीय प्रहार की मदद से चार बार के चैम्पियन आस्ट्रेलिया ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सात विकेट पर 328 रन बनाये।

जवाब में भारतीय टीम 46.5 ओवर में 233 रन पर ढेर हो गयी। अब तक फार्म में चल रहे भारतीय गेंदबाजों का सिक्का इस मैच में नहीं चला । इस टूर्नामेंट में पहली बार भारतीय गेंदबाज विरोधी टीम के पूरे दस विकेट नहीं चटका सके और काफी महंगे साबित हुए ।

वहीं बल्लेबाजी में विराट कोहली एंड कंपनी ने भी निराश किया । कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आखिर में 65 गेंद पर 65 रन बनाकर अकेले किला लड़ाने की कोशिश की लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी । विश्व कप सेमीफाइनल में 300 से अधिक का स्कोर बनाने वाली आस्ट्रेलिया पहली टीम बनी और यह भी दूसरी बार होगा कि कोई मेजबान देश खिताब जीतेगा ।

हार की वजह बनी ये बातें:
– टॉस हारना
– स्मिथ और फिंच का जोड़ी न तोड़ पाना
– स्पिनर का विकेट न ले पाना
– दवाब में सिंगल रन न रोक पाना
– आखिरी ओवरों में लिए धोनी के गलत फैसले
– बैटिंग पावर प्ले में टीम इंडिया का खराब खेल
– ओपनर का बड़ी पारी न खेल पाना
– कोहली के अहम मौके पर आउट होना
– रन आउट होना
– बल्लेबाजों का गलत शॉट चयन

 

Related Posts: