वाशिंगटन,  अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के मीडिया सचिव ने कहा कि वह संवाददाताओं से कभी भी झूठ नहीं बोलेंगे। व्हाइट हाउस के प्रवक्ता शॉन स्पाइसर का यह बयान तब आया जब उन्होंने शनिवार को संवाददाताओं के समक्ष यह घोषणा किया था कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के शपथ गहण समारोह में सबसे अधिक लोग शामिल हुए थे जो पहले कभी नहीं देखा गया था।

प्रवक्ता का यह दावा सोशल मीडिया पर विवाद का विषय तब बन गया जब वहां पर कुछ फोटो में ट्रंप के शपथ ग्रहण समारोह के दौरान शामिल हुए भीड़ को वर्ष 2009 में बराक ओबामा के शपथ ग्रहण समारोह में पहुंची भीड़ से भी कम बताया गया। स्पाइसर के इस बयान की आलोचना होने के बाद राष्ट्रपति की सलाहकार केलियाने कॉन्वे ने रविवार को इसके बचाव में कहा था कि व्हाइट हाउस आपके सामने एक वैकल्पिक तथ्य रखना चाहता था।

उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर जो कुछ कहा जा रहा है वह एकपक्षीय है। कल एक औपचारिक व्हाइट हाउस की ब्रीफिंग में एक संवाददाता ने स्पाइसर से पूछा कि क्या उनकी मंशा हमेशा से सच बोलने की थी। श्री स्पाइसर ने कहा, “हमारी मंशा आपसे कभी झूठ बोलने की नहीं थी। मैं प्रेस के साथ स्वस्थ संबंध रखना चाहता हूं।” श्री स्पाइसर ने प्रशासन के दृष्टिकोण को रखने के अपने अधिकार का बचाव किया।

उन्होंने कहा कि विभिन्न टेलीविजन आैर ऑनलाइन दर्शकों के बीच शनिवार को शपथ ग्रहण समारोह की भीड़ को लेकर की गयी टिप्पणी का प्रसारण हुआ था। उन्होंने कहा कि ट्रंप और उनके सलाहकारों ने पत्रकारों द्वारा किये गये कवरेज से काफी नाराज है और उन्होंने इसे उनकी विश्वसनीयता को कमजोर करनेवाला प्रयास बताया।

Related Posts: