trumpनई दिल्ली,  साई धर्म गुरू पोप फ्रांसिस के टिप्पणी पर पलटवार करते हुए डोनाल्ड ट्रम्प ने इसे शर्मनाक और अविश्वसनीय बयान करार दिया है। गौरतलब है कि पोप ने डोनाल्ड के धर्म पर सवाल उठाते हुए कहा था कि वे ईसाई नहीं हैं।
पोप के इस बयान के बाद पत्रकारों से बातचीत में कहा कि वे पोप के बयान से इत्तेफाक नहीं रखते। उन्हें अपने ईसाई होने पर गर्व है।

ट्रम्प ने कहा, जब भी वेटिकन शरह पर आईएसआईएस का हमला होगा, जो सब लोग जानते हैं कि ये आईएस के लिए बड़े ईमान की तरह होगा। मैं वादा कर सकता हूं कि पोप यह प्रार्थना करेंगे के कि ऐसे हमले नहीं हो इसके लिए डोनाल्ड ट्रम्प को राष्ट्रपति होना चाहिए। डोनाल्ड ने कहा कि मेक्सिको की सरकार और उनके नेताओं ने मेरे खिलाफ पोप के कान भरे हैं क्योंकि वे जानते हैं कि मैं उन्हें अमेरिका को लूटने ने रोक सकता हूं। पोप ने केवल एक पक्ष की ही बात सुनी और उन्हें कहीं अपराध दिखाई नहीं दिया।

Related Posts: