उत्तरी राज्यों में हिमपात के चलते नीचे के राज्यों में शीत लहर चलने लगी है. दिल्ली में न्यूनतम तापमान गिरकर 5 डिग्री हो गया. कोहरे से रेलों के संचालन में काफी फर्क आ गया. मध्यप्रदेश में कोहरा छाने लगा है.

राज्य में आकाश साफ है- बादल नहीं हैं इसलिये सूर्य की रोशनी बराबर मिलने से दिन में सर्दी कम रहती है लेकिन रात का तापमान एकदम से गिरने लगता है. दिन में सर्दी केवल शीत लहर के कारण ही लोगों को महसूस हो रही है.

अभी मावठा वर्षा के आसार तो नहीं बने हैं. कोहरा और ओस से फसलों को काफी नमी मिल जाती है.बादलों के अभाव में दिन में सूर्य की रोशनी भी खेती को लाभदायी सिद्ध हो रही है. इससे पाले का खतरा नहीं होता. इसकी वजह से कोहरा जल्दी छट जाता है. जनवरी में मावठा की वर्षा आती ही है, हो सकता है जनवरी के दूसरे पखवाड़े में मावठा की स्थिति बने.

 

Related Posts: