नयी दिल्ली,   सूचना एवं प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडू ने आज कहा कि सरकार मीडिया और मनोरंजन क्षेत्र के और विकास के लिए उपयुक्त वातावरण उपलब्ध करने के लिए वचनबद्ध है और उसके डिजिटल इंडिया, स्किल इंडिया और मेक इन इंडिया अभियान इन क्षेत्रों को मजबूत करेंगे।

श्री नायडू ने भारतीय दूरसंचार प्राधिकरण के दो दशक पूरे होने के अवसर पर यहां आयोजित दो दिवसीय संगोष्ठी का उद्घाटन करते हुए कहा कि डिजिटल इंडिया, स्किल इंडिया और मेक इन इंडिया अभियान से ऑनलाइन संगीत और गेम जैसे उद्योग मजबूत होंगे। उन्होंने कहा कि ये अभियान वस्तु एवं सेवा कर समेत नये बदलावों के स्पष्ट संकेत हैं और मीडिया और मनोरंजन क्षेत्र के लिए ये क्रांतिकारी साबित होंगे। उन्होंने कहा कि देश में प्रसारण क्षेत्र डिजिटल प्रसारण के नये युग में प्रवेश करने की दहलीज पर है।

इससे नवीनतम प्रौद्योगिकीय नवाचारों के इस्तेमाल के लिए कई अवसर प्राप्त होंगे, जिससे लोेगों तक न केवल सेवा की पहुंच बढ़ेगी बल्कि उन्हें गुणवत्तापूर्ण सेवा प्राप्त होगी। उन्होंने कहा कि डिजिटल टेरेस्ट्रियल टेलीविजन( डीटीटी) इस समय महत्वपूर्ण चरण में है और भारत के लोकप्रसारक दूरदर्शन की 44 और शहरों तक डीडीटी का विस्तार करने की योजना है।

श्री नायडू ने डीटीटी के समयबद्ध कार्यान्वयन के लिए अनुशंसाएं करने के वास्ते भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण(ट्राई) की सराहना करते हुए कहा कि डिजिटल प्रसारण की ओर बढ़ने पर कई चुनौतियां भी सामने आयी हैं और इस संबंध में किसी भी बाधा से पार पाने में ट्राई की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि मेक इन इंडिया के तहत विभिन्न डिजिटल उपकरणों का निर्माण देश में ही होने लगा है और संबंधित पक्षों को देश में उपकरणों के विकास को बढ़ावा देना चाहिए।

Related Posts: