FDIनई दिल्ली,   केंद्र सरकार ने विदेश पूंजी निवेश यानी (स्नष्ठढ्ढ) पर बड़ा फैसला लिया है. उसने एफडीआई नीति में बड़े बदलावों को मंजूरी दे दी है. सरकार ने रक्षा क्षेत्र में सौ फीसदी एफडीआई को मंजूरी दी है.

रक्षा के साथ एविएशन के क्षेत्र में भी सौ फीसदी विदेशी पूंजी निवेश को केंद्र सरकार ने स्वीकृति दे दी है.सरकार का मकसद देश में और अधिक प्रत्यक्ष विदेशी निवेश आकर्षित करना है.

सरकार ने डिफेंस, सिविल एविएशन, भारत में बने फूड प्रोडक्ट्स, ब्रॉडकास्टिंग कैरिएज सर्विसेज और एनिमल हस्बेंडरी में 100 फीसदी विदेशी निवेश को हरी झंडी दे दी है.भारत में बनने वाले खाद्य उत्पादों पर 100 फीसदी विदेशी निवेश को सरकार ने मंजूरी दी है. इसमें ई-कॉमर्स के उत्पाद भी शामिल होंगे. नीति में बदलाव करते हुए रक्षा क्षेत्र में स्नष्ठढ्ढ की 49 फीसदी सीमा को खत्म कर दिया गया है.

इसके अलावा फार्मा की ग्रीनफील्ड में भी 100 फीसद स्नष्ठढ्ढ सरकार ने मंजूर की है. ब्राउनफील्ड में भी सौ फीसदी विदेशी पूंजी निवेश को सरकार ने मंजूरी दी है. पशुपालन में भी केंद्र सरकार ने 100 फीसद स्नष्ठढ्ढ मंजूर की है.ष्ठञ्ज॥, केबल नेटवर्क, टीवी और मोबाइल में भी सरकार ने सौ फीसदी विदेशी पूंजी निवेश मंजूर कर दिया है. इससे पूर्व सरकार ने ऑनलाइन खुदरा बाजार मंच (ई-कॉमर्स) के क्षेत्र में 100 प्रतिशत प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) की अनुमति दी थी.