16cm1भोपाल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने डेंगू एवं स्वाइन फ्लू नियंत्रण के युद्ध स्तर पर प्रयास के लिए कहा है.साथ ही बचाव के उपायों के प्रति जनजागृति फैलाने के भी निर्देश दिये है.उन्होंने चिकित्सा शिक्षा, स्वास्थ्य और नगरीय प्रशासन के प्रमुख सचिव को प्रतिदिन प्रात: 10 बजे प्रदेश में डेंगू, स्वाइन फ्लू की स्थिति की समीक्षा कर उन्हें सूचित करने के निर्देश दिए हैं.चौहान आज यहां मंत्रालय में डेंगू और स्वाइन फ्लू की प्रदेश में स्थिति की समीक्षा कर रहे थे.

मुख्यमंत्री चौहान ने स्वाइन फ्लू और डेंगू के उपचार और रोकथाम के प्रयासों की समीक्षा की.उन्होंने कहा कि सभी आवश्यक औषधियों/उपकरणों की अग्रिम उपलब्धता सुनिश्चित की जायें.उन्होंने कहा कि बीमारी से एक भी मृत्यु चिंता का विषय है.रोगों की रोकथाम और उपचार के ठोस प्रबंध हो.आमजन में रोकथाम और उपचार के उपायों के संबंध में व्यापक स्तर पर जनजागृति के प्रयास हो.इसमें जनसंचार के विभिन्न माध्यमों का उपयोग किया जाये.सभी स्तरों पर प्रशासन और नगरीय निकाय संयुक्त रूप से रोकथाम के कार्य करें.

औषधि विक्रय के लिए मेडिकल स्टोर चिन्ह्ति

बैठक में बताया गया कि प्रदेश में स्वाइन फ्लू के उपचार की आवश्यक औषधियाँ, उपकरण पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है.हर जिले में टेमीफ्लू औषधि विक्रय के लिए मेडिकल स्टोर चिन्हित कर दिए गए हैं.जिला चिकित्सालयों, सिविल अस्पताल और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में ओ.पी.डी. की 24 घंटे की व्यवस्था की गई है.आवश्यक औषधियाँ ब्लाक स्तर पर उपलब्ध करवाई गई है.मेडिकल कॉलेज स्तर पर न्यूनतम 10 पलंग, जिला चिकित्सालय में 2 से 5 बिस्तर के आइसोलेशन वार्ड की व्यवस्था की गई है.निजी क्षेत्र में 59 अस्पताल को स्वाईन फ्लू के उपचार के लिये चिन्हित किया गया है.

यह मौजूद रहे-
बैठक में अपर मुख्य सचिव अजय नाथ, प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा विनोद सोमवाल, प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य परिवार कल्याण श्रीमती गौरी सिंह, प्रमुख सचिव नगरीय प्रशासन मलय श्रीवास्तव, मुख्यमंत्री के सचिव द्वय विवेक अग्रवाल, हरिरंजन राव, स्वास्थ्य आयुक्त पंकज अग्रवाल और स्वास्थ्य सचिव श्रीमती सूरज डामोर उपस्थित थी.

Related Posts:

जनभागीदारी से बनेगा सामुदायिक भवन और पार्क
लोपैथिक की तर्ज पर हो होम्योपैथिक दवाईयों की बिक्री
वैज्ञानिक शोध जीवन स्तर ऊँचा करने के लिए हो
सूचना प्रौद्योगिकी में नवाचारों के लिये मप्र. बधाई का पात्र
कनेक्ट इंडिया ने की लास्ट माइल डिस्ट्रिब्यूशन सर्विसेज लांच
मध्यप्रदेश में प्री मानसून की बारिश से पारा गिरा, भोपाल में भी बारिश