13 jhabua100झाबुआ/रतलाम,  पेटलावद कस्बे में 90 लोगों की जान लील जाने वाले भयावह हादसे से 28 घंटे बाद पेटलावद बेचैन है। लोगों के चेहरे पर दु:ख, तनाव, हताश, आक्रोश, भय और जुगात्सा के मिले जुले भाव दिखाई दे रहे है। लोगों को लगता है जैसे वो खौफ नाक मंजर उनकी आंखों में फि ट हो गया है, वे बार बार उस घटनास्थल की और जा रहे है और वहां अपनों के होने के अहसास को महसूस करने की कोशिश कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री माधव कॉलोनी निवासी चंद्रकांत गुर्जर, विक्की पंवार, रोहित गुप्ता आदि मृतकों के घर गये और शोक संवेदना व्यक्त की।
इसके बाद मुख्यमंत्री बामनिया रोड, मलिन बस्ती, अंबिका चौक, र्सिवी मोहल्ला, भेरू चौक, जैन मंदिर गली, भगतसिंह मार्ग, राजापुरा आदि स्थानों पर शोक में डुबे परिवारों से मिलने पहुंचे। इन परिवारों से मिलते हुए मुख्यमंत्री ने एक बात बहुत जोर देकर कही की ना केवल पेटलावद में बल्कि पूरे प्रदेश में विस्फ ोटों के कारोबार की गहन जांच पड़ताल की जाएगी।

मुख्यमंत्री मृतकों के घर-घर गए। लगभग सभी जगह उन्होंने आश्वासन दिया कि मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए का मुआवजा दिया जाएगा। छोटे बच्चों की पाई की जिम्मेदारी ली और बेटियों की शादी की भी। सीएम ने सभी घरों से मोबाइल या फोन नंबर लिए। ये आश्वासन दिया कि किसी भी जरूरत में उनका साथ देंगे।

Related Posts:

दर्जनभर धमाकों से थर्राया काबुल
अखिलेश के जनता दरबार में पहुंची अमेरिकी महिला
मुखिया गुप्ता की सोच सार्थक व कर्मियों को करना संतुष्ट
लालू का मोदी पर बड़ा हमला , देश में इमरजेंसी जैसे हालात
नेपानगर विधानसभा उपचुनाव : भाजपा की मंजू दादू ने कांग्रेस प्रत्याशी को हराया
ओबामा ने ट्रम्प को किया आगाह, कहा रूस पर प्रतिबंध को न हटाएं