ent2बॉलीवुड अभिनेता रणबीर कपूर और उनके निर्देशक इम्तियाज अली फिल्म ‘तमाशा’ के जरिए देव आनंद को श्रद्धांजलि देना चाहते हैं. रणबीर ने कहा कि इम्तियाज इसे फिल्म का हिस्सा बनाना चाहते थे और उन्होंने बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार की आवाज और अंदाज को सही ढंग से पेश करने के लिए बहुत मेहनत की . उन्होंने कहा देव आनंद का अनुकरण पटकथा का हिस्सा था.
इम्तियाज ऐसा करना चाहते थे क्योंकि फिल्म के किरदार वेद और तारा एक जगह पर मिलते हैं और फैसला करते हैं कि वे एक-दूसरे को अपने नाम और अपने मूल स्थान के बारे में नहीं बताएंगे. वे कोई और ही इंसान बन जाने का फैसला करते हैं. इसलिए वेद डॉन बन जाता है और तारा मोना डार्लिंग बन जाती है.

रणबीर ने कहा,” देव आनंद रोमांस के बादशाह हैं और हम उनका मजाक नहीं बनाना चाहते थे बल्कि उन्हें श्रद्धांजलि देना चाहते थे. यह मजेदार था. मैंने आवाज की नकल करने वाले कलाकार से काफी प्रशिक्षण लिया क्योंकि उन संवादों की नकल करना बहुत मुश्किल है. ‘तमाशा’27 नवंबर को प्रदर्शित होगी .

Related Posts: