mp4बैतूल, . नईदिल्ली से चैन्नई जा रही 2611 तमिलनाडु एक्सप्रेस के एसी-2 कोच से आरपीएफ की स्कोर्ट पार्टी ने गांजा ले जा रहे तीन लोगों को पकडऩे में सफलता हासिल की है।

तीनों युवक नईदिल्ली से चैन्नई 20 किलो गांजे की खेप लेकर जा रहे थे। पकड़े गए युवक नईदिल्ली के रहने वाले बताए जा रहे है। आरोपियों को आरपीएफ ने हिरासत में लेकर सोमवार को न्यायालय में पेश करने का निर्णय लिया है। जानकारी के मुताबिक तमिलनाडु एक्सप्रेस के वातानुकुलित-2 के कोच में यात्री हरिनारायण सफर कर रहे थे।

उन्होंने अपना मोबाईल चोरी होने की शिकायत आरपीएफ से की थी। जब ट्रेन इटारसी से निकलकर बैतूल की ओर आ रही थी, तब आरपीएफ को इस बारे में सूचना मिली कि यात्री की शिकायत पर आरपीएफ ने एसी-2 कोच में सर्चिंग की तब इसी कोच में यात्रा कर रहे तीन लोगों पर शक की
सूई घुमी।

कोच में यात्रा कर रहे सुल्तानपुरी निठारी, सी ब्लाक उत्तर पश्चिम दिल्ली, रंजीत सिंह पिता विनोद सिंह (22), सर्विस गली सुल्तानपुरी नईदिल्ली निवासी अमान पिता रमेश कुमार(19), रंजीत नगर निवासी प्रीतपाल पिता ओमप्रकाश(50) को स्कोर्ट पार्टी ने पूछताछ की तो वे अलग-अलग बाते करने लगे। इसी दौरान आरपीएफ ने तीनों के बैग की तलाशी ली तो बैग के अंदर 15 पैकेट में करीब 20 किलो से अधिक गांजा रखा हुआ था।

Related Posts: