वाशिंगटन,

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में हुए बम धमाकों के बाद तालिबान के साथ बातचीत की संभावनाओं को खारिज कर दिया।उन्होंने विगत दिनों में अफगानिस्तान में हुए बम धमाकों की निंदा करते हुए कहा, “जिसे खत्म किया जाना चाहिए उसका खात्मा किया जाएगा।”

श्री ट्रंप ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्यों के साथ कल व्हाइट हाऊस में बैठक शुरू करने से पूर्व यह बात कही।उन्होंने कहा कि तालिबान के साथ फिर से शांति वार्ता शुरू करने की संभावनाएं कम हो गयी हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने पत्रकारों को कहा, “मुझे नहीं लगता कि तालिबान से कोई बातचीत होगी।हम फिलहाल बातचीत के लिए तैयार नहीं है।वहां एक अलग ही लड़ाई चल रही है।तालिबान निर्दोष लोगों को मौत के घाट उतार रहा है।”

उन्होंने कहा, “आप उनको नृशंसता करते हुए, अपने ही लोगों, महिलाओं और बच्चों की जान लेते हुए देखते हैं।यह भयावह है।हम तालिबान से बातचीत नहीं करना चाहते।जिसे खत्म किया जाना चाहिए, हम उसका खात्मा करेंगे।कोई अन्य ऐसा भले ही करने में सफल नहीं हो रहा, लेकिन हम ऐसा करने में सफल होंगे।”

गौरतलब है कि अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में शनिवार को हुए आत्मघाती हमले में 100 से ज्यादा लोग मारे गये थे और 235 घायल हुए थे।वहीं कल काबुल की सैन्य अकादमी में हुए हमले में अभी तक 11 सैनिकों की मौत हो चुकी है।

Related Posts:

भारत में खेलने का खर्चा भी उठाने को तैयार : अशरफ
और बढ़ा मनी लांडरिंग का भूत : अब ओबीसी फंसा
कार्बन उत्सर्जन नियंत्रित करे विकसित देश : माेदी
विश्व बैंक समूह के अध्यक्ष जिम योंग किम मंगलवार को भारत की यात्रा पर आयेंगे
100 देशों पर साइबर हमला, रूस, ब्रिटेन प्रभावित
संयुक्त राष्ट्र महासभा का फैसला अंतरराष्ट्रीय कानून की जीत: मलीहा