डंपर ने मारी थी टक्कर

भोपाल,

छोला मंदिर इलाके में गुरूवार-शुक्रवार की दरमियानी रात अयोध्या पाइपास पर युवक की बाइक खराब हो गई थी, जिससे युवक खराब हुई बाइक पर बैठा अपने दोस्त का इंतेजार कर रहा था.

इसी बीच एक तेज रफ्तार डंपर चालक ने पीछे से बाइक को जोरदार टक्कर मार दी थी. हादसे के समय मृतक का साडू पास ही में खड़ा था, जिसने हादसे के बाद अस्पताल पहुंचाया. तीन दिन चले उपचार के बाद युवक की मौत हो गई है. पुलिस ने मर्ग कायम कर आरोपी चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस के अनुसार मृतक छोटेलाल कुशवाह पिता हरी सिंह कुशवाह उम्र 28 वर्ष अयोध्या नगर स्थित सिद्ध नगर कॉलोनी का रहने वाला था. वह आपे चालाने के साथ एक नर्सरी में भी नौकरी करता था. उसकी एक रिश्तेदार महिला बीमार है, जो सुल्तानिया अस्पताल में भर्ती है.

घटना की रात वह साड़ू राम सिंह के साथ में रिश्तेदार को खाना देने अस्पताल गया था, जहां कुछ देर रूकने के बाद ही वह घर के लिए लौट रहा था. लौटते समय पीपुल्स मेडिकल कॉलेज से अयोध्या नगर जाने वाले बाइपास रोड पर उसकी बाइक खराब हो गई.

मदद के लिए उसने एक दोस्त को कॉल किया और गाड़ी पर बैठा उसका इंतजार कर रहा था, वहीं उसका परिचित पास में खड़ा हो गया था. इसी बीच पीछे से आए एक अनियंत्रित डंपर ने छोटेलाल को अपनी चपेट में ले लिया. इसके बाद आरोपी डंपर चालक मौके पर गाड़ी को छोड़कर फरार हो गया. पुलिस ने डंपर चालक को गिरफ्तार कर लिया है..

कमरे में बंद कर लगाई फांसी

अशोका गार्डन थाना अंतर्गत एक युवक ने अपने आप को कमरे मेंं बंद कर फांसी लगा ली. घटना का पता सुबह चला जब पत्नी उसे चाय देने के लिए गई. पुलिस ने मर्ग कायम कर विवेचना में लिया है. पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ओमकार सिंह उम्र 26 वर्ष उदयपुरा, जिला रायसेन का रहने वाला था.

ओमकार शंकर गार्डन में राहुल प्रजापति के घर किराए से रहता था. ओमकार के साथ पत्नी और बच्चे भी रह रहे थे. ओमकार मजदूरी करता था और शराब पीने का भी आदी था. शनिवार रात भी वह शराब के नशे में आया था. नशे में होने के बाद पत्नी से विवाद कर दूसरे कमरे में सोने चला गया.

सुबह करीब 6 बजे जब ओमकार की पत्नी की नींद खुली तो उसने पति को फांसी के फंदे पर लटका देखा था. पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. पुलिस ने मर्ग कायम कर विवेचना प्रारंभ कर दी है.

Related Posts: