नयी दिल्ली,  तृणमूल कांग्रेस के सदस्यों ने सरकार पर बदले की राजनीति और नोटबंदी का विरोध करने पर उसके लोकसभा सदस्य को अवैध तरीके से गिरफ्तार किये जाने का आरोप लगाते हुये आज राज्यसभा से बहिर्गमन किया।

सुबह सदन की कार्यवाही शुरू होते ही उप सभापति पी जे कुरियन ने शून्यकाल शुरू किया। इसी दौरान तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्राइन ने कहा कि वह दो मुद्दे उठाना चाहते हैं और इसके लिए वह नोटिस भी दे चुके हैं। उन्होंने कहा कि सरकार बदले की राजनीति कर रही है और उसकी पार्टी के एक लोकसभा सदस्य को नोटबंदी का विरोध करने के कारण अवैध तरीके से गिरफ्तार किया गया।

उन्होंने कहा कि नोटबंदी के कारण नोट बदलने के लिए कतार में लगने के दौरान 120 लोगों की मौत हो गयी और उन्हें सदन में श्रद्धांजलि दी जानी चाहिए।

इसलिए सोमवार को सदन में एक मिनट का मौन रखा जाना चाहिए। इसी दौरान संसदीय कार्य राज्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कुछ कहने की कोशिश की लेकिन तभी तृणमूल कांग्रेस के सदस्य सदन से बहिर्गमन कर गये।

Related Posts: