नयी दिल्ली,

तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) और वाईएसआर कांग्रेस के सदस्यों द्वारा आँध्र प्रदेश के लिए विशेष पैकेज की माँग को लेकर किये गये हंगामे के कारण आज प्रश्नकाल के दौरान लोकसभा की कार्यवाही 15 मिनट के लिए स्थगित करनी पड़ी।

सुबह प्रश्नकाल शुरू होते ही तेदेपा के सदस्य हाथों में पोस्टर लिये अध्यक्ष के आसन के समीप आ गये। आँध्र प्रदेश के लिए विशेष पैकेज की माँग करते हुये वे लगातार नारेबाजी करते रहे थे।

उनके हाथों में “आँध्र प्रदेश बचाओ”, “आँध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दो” तथा राज्य की विभिन्न परियोजनाओं को जल्द पूरा करने की माँग संबंधी पोस्टर थे। वे केंद्र में सत्तारूढ़ और आँध्र प्रदेश में सरकार में उनके सहयोगी भारतीय जनता पार्टी से “गठबंध धर्म ” निभाने की भी माँग कर रहे थे।

इस बीच अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने प्रश्नकाल जारी रखा। उन्होंने एक बार हंगामा कर रहे सदस्यों से लोकसभा कर्मचारियों से दूर रहने और उन्हें काम करने देने का अनुरोध भी किया। उन्होंने कहा “वे (कर्मचारी) आपके लिए काम कर रहे हैं।”

करीब 11.30 बजे तेदेपा के नारामल्ली शिवप्रसाद ने कर्मचारियों की मेज से किताबें उठा लीं। श्रीमती महाजन ने इस पर कड़ा रुख अख्तियार करते हुये कहा “मुझे कार्रवाई करनी होगी।” इसके बाद उन्होंने सदन की कार्यवाही 15 मिनट के लिए स्थगित कर दी।

कार्यवाही दोबारा शुरू होने के बाद तेदेपा के सदस्य एक बार फिर अध्यक्ष के आसान के समीप आ गये और नारेबाजी जारी रखी। वे “हमें न्याय चाहिये” के नारे भी लगा रहे थे। इस दौरान श्री शिवप्रसाद डुगडुगी बजाते हुये भी देखे गये। हंगामे के बीच ही प्रश्नकाल की कार्यवाही पूरी की गयी।

Related Posts: