महिला विधायक व महिला पुलिस कर्मी ने एक दूसरे को जड़े थप्पड़

शिमला,

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला स्थित कांग्रेस के प्रदेश मुख्यालय में घुसने की कोशिश कर रही कांग्रेस विधायक आशा कुमारी ने एक महिला पुलिसकर्मी के साथ हाथापाई की और उसे थप्पड़ जड़ दिया.

जवाब में महिला पुलिसकर्मी ने भी कांग्रेस विधायक को थप्पड़ रसीद कर दिया. बताया जा रहा है कि आशा कुमारी को पुलिस ने कथित रूप से राहुल गांधी समीक्षा बैठक में हिस्सा लेने से रोक दिया था.

डलहौजी विधानसभा सीट से विधायक आशा कुमारी और महिला पुलिसकर्मी के बीच हाथापाई का पूरा वीडियो वायरल हो गया है. बता दें, आशा कुमारी अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी की सेक्रटरी हैं और पंजाब मामलों की प्रभारी हैं.

उन्हें हिमाचल प्रदेश विधानसभा में विपक्ष के नेता पद के लिए प्रबल दावेदार माना जा रहा है. इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी विधानसभा चुनाव में पार्टी को मिली करारी हार की समीक्षा करने के लिए शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश पहुंच गए.

राहुल गांधी शिमला स्थित कांग्रेस के प्रदेश मुख्यालय राजीव भवन में पार्टी के विधायकों, विधानसभा चुनाव के उम्मीदवारों और पार्टी के जिला अध्यक्षों से मुलाकात कर चुनाव में पार्टी के खराब प्रदर्शन का विश्लेषण करेंगे.

राहुल गांधी दोपहर 2 बजे पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक में शामिल होंगे. बता दें, हाल ही में हुए चुनाव में हिमाचल प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी को भारी बहुमत मिला है. बीजेपी ने प्रदेश की कुल 68 सीटों में से 44 पर जीत हासिल की है जबकि कांग्रेस को महज 21 सीटें मिलीं. हालांकि, कांग्रेस को बीजेपी के मुख्यमंत्री उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल एवं प्रदेश अध्यक्ष को हराने में कामयाबी मिली.

आशा कुमारी का मध्य प्रदेश से है नाता

हिमाचल प्रदेश की कांग्रेसी विधायक आशा कुमारी का संबंध मध्य प्रदेश से है. वे सरगुजा राज परिवार से जुड़ी हुई हैं एवं उनकी पढ़ाई भी भोपाल में हुई. महिला विधायक के भाई अरुणेश्वर शरण ङ्क्षसहदेव भोपाल में ही निवास करते हैं.

इनके पिता मध्य प्रदेश के मुख्य सचिव भी रह चुके हैं. उनका नाम मदनेश्वर शरण ङ्क्षसहदेव है. वे भी अरेरा कॉलोनी स्थित अपने निवास सरगुजा हाउस में हैं. जबकि बड़े भाई त्रिभुनेश्वर शरण ङ्क्षसहदेव छत्तीसगढ़ विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी निभा रहे हैं.

Related Posts: