परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल

नवभारत न्यूज भोपाल,

खजूरी कला नर्मदा वैली में हुई बुजुर्ग दंपति की हत्या के बाद इलाके में दहशत का माहौल है. पुलिस ने हत्या के शक में नौकर राजू व उसकी पत्नी को हिरासत में लिया है. सूत्रों की मानें तो अवैध संबंधों के चलते दौहरे हत्याकांड को अंजाम दिया गया था.

पुलिस आरोपी से पूछताछ करने में जुटी है. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि आज इस मामले का खुलासा कर दिया जाएगा. मृतक मूलत: मन्नारगढ़ केरला के रहने वाले थे और ग्वालियर से वायुसेना से सेवानिवृत्त होने के बाद यहां पर आकर रहने लगे थे. मृतक गोपाल कृष्ण नायर व गोमती नायर यहां पर अकेले रहते थे. इनकी तीन बेटियां है, प्रसोदा, प्रतिभा और प्रियंका. जहां प्रसोदा की ससुराल ग्वालियर में हैं, वहीं शेष दोनों भोपाल में रहती हैं.

घटना की जानकारी सुबह के समय सामने आई जब नौकरानी वहां पर पहुंची. काफी देर तक उसने दरवाजा खटखटाया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला तो उसने पड़ोसियों को सूचना दी. इसके बाद पड़ोसियों ने छत के रास्ते अंदर झांककर देखा तो दोनों मृत अवस्था में फर्श पर पड़े हुए थे. बताया जा रहा है कि पड़ोसियों की सूचना के बाद उनके दामाद संजू नायर भी पहुंच गए थे.

बेटियों ने जताई थी पुराने नौकर पर हत्या की आशंका

दंपति की बेटी प्रियंका ने पूर्व में नौकर रहे राजू पर हत्या का शक जाहिर किया है. मीडिया से चर्चा में उन्होंने कहा कि राजू पहले यहीं पर नौकरी करता था, लेकिन भेल में जॉब के बाद उसने नौकरी छोड़ दी थी. उन्होंने बताया कि राजू ने उनके पिता से एक लाख रुपए उधार लिए थे, जिन्हें जब भी उसके पिता मांगते थे तो वह विवाद करता था. वहीं पुलिस सूत्रों की मानें तो अवैध संबंधों के चलते आरोपी ने इस वारदात को अंजाम दिया. हालांकि पुलिस अधिकारी इस पर कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं.

बोलीं- पिता से हुई थी बात, रिजर्वेशन का पूछा था

प्रियंका ने बताया कि यूं तो अकसर माता पिता से फोन पर हर रोज तीनों बहनों की बात होती थी, लेकिन गुरूवार को उनके पिता ने उन्हें फोन किया था और पूछा था कि उन्हें रिजर्वेशन कराना है, जिसके लिए उनके पास विकलांग का प्रमाणपत्र भी है, क्या ऑनलाइन हो जाएगा या फिर स्टेशन पर जाकर ही कराना पड़ेगा.

पड़ोसी बोले- इन्होंने ही यहां तक बस चलवाई

पड़ोसियों ने बताया कि यहां पर पहले बस का कोई साधन नहीं था. जीके नायर ने यहां पर बस संचालन के लिए काफी प्रयास किया और उन्हीं की मेहनत की वजह से आज यहां तक बस आती है. पड़ोसियों ने बताया कि सुबह के समय बुजुर्ग दंपति घर के बाहर बैठते थे.

12 बजे आ रही थी आवाज

नर्मदा वैली कॉलोनी में रहने वाली एक फैमिली ने पुलिस को बताया कि देर रात 12 बजे दंपत्ति के कमरे से आवाज आ रही थी, इसके बाद उन लोगों ने लैंडलाइन से जीके नायर के घर फोन लगाया था, लेकिन फोन रिसीव नहीं हुआ.

चार साल पहले भी हुई थी चोरी

रहवासियों ने बताया कि बुजुर्ग दंपति के यहां चार साल पहले भी चोरी हुई थी. इस चोरी में बदमाश सामान के अलावा उनके दरवाजे भी चोरी कर ले गए थे. रहवासियों का कहना है कि ऐसा तो कभी सामने नहीं आया कि उनका किसी से झगड़ा हो.

टीम का किया गठन

पुलिस अधीक्षक राहुल लोधा ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीम का गठन किया है, जिसमें एएसपी जोन-2, सीएसपी गोविंदपुरा, सीएसपी हबीबगंज, थाना प्रभारी अवधपुरी व थाना प्रभारी गोविंदपुरा को शामिल किया गया है. एसपी लोधा के मुताबिक अभी तक जो सामने आया है उसके मुताबिक रंजिश के चलते यह हत्या किसी परिचित ने ही की है.

Related Posts: