28kk9जोहान्सबर्ग, 28 जुलाई. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी के बाद दक्षिण अफ्रीका टीम का नेतृत्व करने वाले क्लाइव राइस का लंबी बीमारी के बाद मंगलवार को निधन हो गया. वह 66 वर्ष के थे और लंबे समय से ब्रेन ट्यूमर से जूझ रहे थे.
दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हारुन लोगार्ट ने क्लाइव के निधन पर शोक व्यक्त करते हुये कहा कि क्लाइव देश के पहले कप्तान थे और हम उन्हें एक जुझारू योद्धा के रूप में याद करेंगे.

उन्होंने अपने जीवन के आखिरी दिनों में जो साहस और जुझारूपन दिखाया है, वह हम सबके लिये प्रेरणा है. लोगार्ट ने कहा कि क्लाइव ने वर्ष 1991 में भारत के खिलाफ देश के पहले कप्तान के रूप में 42 वर्ष की उम्र में नेतृत्व संभाला था. वह भी ऐसी उम्र में जब बहुत से क्रिकेटर मैदान को अलविदा कह देते हैं . वह एक शानदार कप्तान के अलावा बेहतरीन ऑलराउंडर थे. दुर्भाग्यत: क्लाइव के खेल के चरम पर रहने के दौरान दक्षिण अफ्रीका को रंगभेद करने के कारण अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से निलंबित कर दिया गया था. उस समय उनकी उम्र महज 22 वर्ष थी.

Related Posts: