spo1चुंग जू (दक्षिण कोरिया),   भारतीय नाविक दत्तू भोकनाल ने सोमवार को यहां फीसा एशियाई ओसनिया ओलंपिक क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट में पुरूष एकल स्कल्स स्पर्धा के फाइनल में रजत पदक जीतने के साथ ही अगस्त में होने वाले रियो ओलंपिक खेलों के लिये भी क्वालीफाई कर लिया.

25 वर्षीय भोकनाल ने क्वालिफाइंग टूर्नामेंट में दो किलोमीटर का सफर तय करने के लिये सात मिनट और 7.49 सेकंड का समय लिया और दूसरे स्थान पर रहे. रजत पदक जीतने के साथ ही भारतीय खिलाड़ी ने रियो ओलंपिक के लिये पुरूष एकल स्कल्स वर्ग में क्वालीफाई भी कर लिया. इस स्पर्धा के फाइनल्स में शीर्ष सात खिलाडिय़ों को रियो खेलों का टिकट मिला है. भारत हालांकि पुरूषों के हल्के वर्ग के डबल स्क्ल्स वर्ग में रियो का टिकट नहीं जीत सका. इस वर्ग में विक्रम सिंह और रूपेंद्र सिंह फाइनल्स में पांचवें स्थान पर रहे जबकि इस वर्ग से शीर्ष तीन स्थानों पर रहने वाले खिलाडिय़ों ने रियो के लिये क्वालीफाई किया. भारतीय नाविक ने यहां चैंपियनशिप के फाइनल में स्वर्ण पदक के लिये भी काफी संघर्ष किया और बढ़त बना चुके शीर्ष पांच खिलाडिय़ों को कड़ी टक्कर दी.

हालांकि अंतत-कोरिया के डोंगयोंग किम ने आखिरी चरण में बाजी मार ली और सात मिनट 5.13 सेकंड का समय लेते हुये पहला स्थान हासिल कर लिया.
भोकनाल ने वर्ष 2014 में नेशनल रोइंग चैंपियनशिप में दो स्वर्ण पदक जीते थे. वह इसी वर्ष चीन में आयोजित हुये एशियाई खेलों में भी भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं. नासिक में जन्मे भोकनाल सेना में कार्यरत हैं और पुणे के आर्मी रोइंग नोड (एआरएन) में अभ्यासरत हैं. इसके अलावा भोकनाल ने गत वर्ष चीन में 16वीं एशियाई रोइंग चैंपियनशिप में पुरूष एकल स्क्ल्स में रजत पदक जीता था.

Related Posts: