4congressभोपाल, 4 मार्च. व्यापमं घोटाले में कांग्रेस एक बार फिर से सबूतों के साथ बुधवार को विंध्याचल स्थित एसआईटी के दफ्तर पहुंची. बताया जा रहा है कि इन दस्तावेजों में व्यापम घोटाले से जुड़े कई नए नाम शामिल हैं. उन्होंने व्यापमं घोटाले की जांच कर रही एसआईटी दफ्तर में प्रमुख चंद्रेश भूषण से मुलाकात की और उन्हें यह दस्तावेज सौंपे. कांग्रेस का कहना है कि इन दस्तावेजों से एक बड़े घोटाले का खुलासा होगा इस दौरान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव, के के मिश्रा, जिलाध्यक्ष पीसी शर्मा, लक्ष्मण सिंह और अन्य पार्टी समर्थक उपस्थित थे.

इधर,प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने एसआईटी को सबूत देते हुए कहा कि राज्यपाल रामनरेश यादव और उनके परिवारजन के नाम व्यापमं घोटाले में आ चुके हैं, तो फिर उनका इस्तीफा क्यों नहीं हो रहा? इससे जाहिर होता है कि राज्यपाल की आड़ में मुख्यमंत्री को बचाने की कोशिश की जा रही है.

Related Posts: