bpl1भोपाल, फॉरेस्ट कमिश्नर के खाते को हेक करके 10 लाख उड़ाने वाले दो शातिर बदमाशों को साईबर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. आरोपियों पर पुलिस ने 5-5 हजार का इनाम भी घोषित कर रखा था. पुलिस ने आरोपियों को दिल्ली से गिफ्तार किया है.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गत 21 नवंबर को फॉरेस्ट कमिश्नर महेन्द्र सिंह धाकड़ के आईसीआईसीआई के बैंक खाते से 10 लाख रुपए डेबिट हो गए थे. जानकारी मिलने पर जब फारेस्ट कमिश्नर ने बेंक से संपर्क किया तो उन्हें बताया गया कि उनके खाते से दिल्ली, नोएडा और गाजियाबाद के आईसीआईसीआई और एचडीएफसी बैंकों के तीन अलग-अलग खातों में में यह रकम ट्रांसफर हुई है. धाकड़ ने इस बात की शिकायत साईबर क्राइम में दर्ज कराई. पुलिस ने जब उन बैंंक खातों की पड़ताल की तो बैंक अकाउंट में दिए गए पते फर्जी पाए गए.

आरोपियों को पकड़ पाने में असफल पुलिस ने थक हारकर आरोपियों पर 5-5 हजार का इनाम भी घोषित कर दिया था. इसी दौरान पुलिस को मुखबिर से पता चला कि बैंक से पैसा निकालने के लिए आरोपी खाताधारक बेंक पहुंच रहे है. पुलिस ने आरोपियों पर निगाह रख उनको गाजियाबाद से गिरफ्तार कर लिया.

आरोपियों की पहचान इमरान मलिक और समीर अहमद के रूप में हुई. दोनों ही आरोपी गाजियाबाद के रहने वाले हैं. इन्होंने दिल्ली में आईसीआईसीआई बेंक और एचडीएफसी बैंक में फर्जी दस्तावेज जमाकर अपने अकाउंट खुलवा लिए थे.

Related Posts: