digvijayनयी दिल्ली,  मुस्लिम उपदेशक जाकिर नाइक को शांतिदूत बताने वाले वीडियो के सामने आने पर भारतीय जनता पार्टी(भाजपा)की तीखी आलोचना का सामना कर रहे कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने पलटवार करते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह पर आज निशाना साधा और आरोप लगाया कि वह मालेगांव विस्फोट की आरोपी प्रज्ञा ठाकुर से मिले थे ।

श्री सिंह ने कहा कि प्रज्ञा ठाकुर 2008 के मालेगांव विस्फोट की आरोपी हैं और भाजपा के वरिष्ठ नेता उससे मिलने जेल गए थे। कांग्रेस के नेता ने कहा कि प्रज्ञा आरोपी हैं जबकि जाकिर के खिलाफ कोई मामला ही नहीं है। उन्होंने ट्वीट किया“जाकिर नाइक के साथ मंच पर होने के लिए मेरी आलोचना हो रही है लेकिन बम विस्फोट की आरोपी प्रज्ञा ठाकुर से श्री राजनाथ सिंह की मुलाकात पर वह क्या कहेंगे। प्रज्ञा पर विस्फोट में शामिल होने का आरोप है, मगर जाकिर के खिलाफ अब तक कोई मामला नहीं है। आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर के बारे में क्या कहेंगे। उन्होंने भी जाकिर नाइक के साथ मंच साझा किया है।’’

मीडिया में कल श्री सिंह का 2012 का एक वीडियो फुटेज वायरल हुआ था जिसमें वह जाकिर नाइक के साथ मंच पर बैठे हैं और उसकी प्रशंसा करते हुए उसे शांति दूत तक बता रहे हैं। इस पर कांग्रेस महासचिव ने कल ही ट्वीट करके सफाई देते हुए कहा था“ज़ाकिर नाइक की कांफ्रेंस में मेरा भाषण दिखाया जा रहा है। मैंने धार्मिक कट्टरवाद के खिलाफ बोला है और सांप्रदायिक सौहार्द की अपील की थी। यह कांफ्रेंस ही सांप्रदायिक सौहार्द को बढ़ावा देने और आतंकवाद के खिलाफ था।

इसमें यह भी बताया गया कि इस्लाम निर्दोषों की हत्या की इजाजत नहीं देता।” हाल में ढाका में हुए आतंकवादी हमले में शामिल एक युवक ने इस हमले में जाकिर का नाम बताया था। बंगलादेश सरकार ने भी कहा है कि इस हमले को आईएसआई के साथ मिलकर अंजाम देने में मुंबई के रहने वाले जाकिर की भूमिका भी रही है। इस पर भी कांग्रेस नेता ने स्पष्टीकरण दिया और कहा कि अगर भारत सरकार या बंगलादेश सरकार के पास ज़ाकिर के आईएसआईएस के साथ संपर्क होने के प्रमाण हैं तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।

Related Posts: