dishanकोलकाता,   ओपनर तिलकरत्ने दिलशान ने नाबाद 83 रन की बेशकीमती पारी खेलते हुये श्रीलंका को अकेले अपने दम पर क्वालिफायर अफगानिस्तान के खिलाफ ट्वेंटी-20 विश्वकप के सुपर-10 ग्रुप-एक मैच में आज छह विकेट से जीत दिला दी.

अफगानिस्तान ने हालांकि कप्तान असगर स्तानिकजई की 62 रन की बदौलत सात विकेट पर 153 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया लेकिन श्रीलंका ने 18.5 ओवर में चार विकेट पर 155 रन बनाकर जीत अपने नाम कर ली. मैन आफ द मैच दिलशान ने 56 गेंदों पर नाबाद 83 रन की लाजवाब पारी में आठ चौके और तीन छक्के उड़ाए. अफगानिस्तान ने मैच में अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन अनुभवहीनता उसके आड़े आई. अफगानी फिल्डरों ने तीन मौकों पर खराब क्षेत्ररक्षण करते हुये श्रीलंका को तीन चौके उपहार में दे दिये. इससे श्रीलंका के ऊपर छाया दबाव हट गया.

वर्ना एक समय उसके चार विकेट 113 रन पर गिर गये थे.
दिनेश चांडीमल 18, तिषारा परेरा 12 और चामरा कापूगेदेरा 10 रन बनाकर आउट हुये. परेरा और कापूगेदेरा रन आउट हुये. लेकिन दिलशान ने एक छोड़ पर डटे रहकर अपनी टीम को जीत दिलाकर दम लिया. दिलशान ने श्रीलंका के लिये विजयी चौका मारा.

मैन आफ द मैच बने दिलशान ने मैच के बाद कहा कि दो मैचों में मैं शून्य पर आउट हो गया था और बड़े मैचों में जाने से पहले मुझे रनों की जरुरत थी. मुझे खुशी है कि मैंने अपने टीम के लिये मैच समाप्त किया. हालांकि 150 से ऊपर का स्किोर एक अच्छा स्कोर था. दिलशान ने कप्तान एंजोलो मैथ्यूज (नाबाद 21) के साथ पांचवें विकेट के लिये 3.4 ओवर में 42 रन की अविजित साझेदारी की. मैथ्यूज ने 10 गेंदों की अपनी पारी में तीन चौके और एक छक्का उड़ाया.

Related Posts: