arunनयी दिल्ली,  उद्योगपति विजय माल्या के देश छोडने का मुद्दा आज राज्यसभा में उठा जहां विपक्ष ने श्री माल्या के पासपोर्ट जब्त नहीं करने और उनके भागने में साथ देने का आरोप लगाया वहीं सरकार ने कहा कि किसी भी दिवालिये को छोडा नहीं जायेगा और उनके विरूद्ध कार्रवाई की जा रही है।

सदन की कार्यवाही शुरू होते की विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने इस मुद्दे को उठाते हुये कहा कि नौ हजार करोड रुपये से अधिक का ऋण लेकर श्री माल्या देश छोडकर भाग गये हैं।

दुनिया के अधिकांश देशों में घर रखने वाले और विलासिता की जिंदगी जीने वाले इस व्यक्ति का पासपोर्ट क्यों जब्त नहीं किया गया।

Related Posts:

उपचुनावों से कांग्रेस खुश बीजेपी को झटका
सिग्नल सिस्टम खाक, छह ट्रेनें रद्द, सोलह के मार्ग बदले
भूमि अध्यादेश पर सरकार के फैसले को शिवसेना ने सराहा
सबसे बड़ी डील: गोदरेज प्रापर्टीज ने 1,480 करोड़ में बेचा अपना ऑफिस स्पेस
बिहार हार की समीक्षा भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक में होगी
दूसरे देश की नागरिकता के लिए अर्जी नहीं दी : राहुल