diwaliभोपाल, दीपावली पर बाजारों में जमकर वर्षा धन . इस वर्ष दीपावली पर पहले से ज्यादा लोगों की भीड़ नजर आई . इसके चलते भोपाल में लगभग 4 से 5 सौ करोड़ के आसपास की ब्रिकी दर्ज की गई है.

लोगों ने जमकर खरीददारी कर वाहन, सोना -चांदी, इलेक्ट्रानिक सामान, कपडे, प्रापर्टी सहित अन्य सामानों को खरीदा. सराफा बाजार में 180 , आटोमोबाइल्स 120 , प्रापर्टी 100, इलेक्ट्रॉनिक्स 80 ,कपड़ा 5 , बर्तन 5, फर्नीचर व अन्य सामान 10 करोड़ रूपए के आसपास खरीदे गए हैं.

धुले एवं सजे वाहन
दीपावली के दिन दो पहीया, चार पहिया तथा बड़े वाहनों को धुलकर शाम को उनके मालिकों द्वारा उन्हें पूजा गया तथा चालकों द्वारा सजाया गया. यही कारण रहा गुरूवार के दिन सड़कों पर बड़े वाहनों का यातायात कम रहा . यह सभी वाहन गुूरूवार शाम से सड़कों पर दिखे.

Rangoli4

Rangoli1_11112015दरवाजों पर पूरी गई रंगोली
महिलाओं एवं कन्याओं द्वारा दीपावली के दिन अपने दरबाजों पर अनेक प्रकार के रंगों से विभिन्न प्रकार के फूल और अनेक खूबसूरत आर्कतियां बनाई. शाम को पूजा के बाद इन आकृतियों में दीपक जलाकर रखे गए.

साज-सज्जा
खुशी के त्यौहार दीपावली पर लोगों ने अपने घरों और प्रतिष्ठïानों को विधुत की रंगबिरंगी झालरों, प्लास्टीक से बनी तथा फूलों से बनी झालरों से सजाया तो वहीं द्वारों पर आम के पत्तों की तोरणों लगाई गईं. आम के पत्तों की तोरणें प्रत्येक पूजन में श्ुाभ मानी जाती है.

पूजन
दीपावली के दिन लोगों ने विधि विधान से अपने घरों और प्रतिष्ठïानों में माता लक्ष्मी का ध्यान कर मिठाई, लाई, बताशा, सिंघाड़ा, केले और बड़ी संख्या में दीपक जला पूजन पाठ किया साथ ही माता लक्ष्मी को अतिप्रिय श्रीयंत्र की पूजा भी की. वहीं लोगों ने अपने नए वही खाते, दीपावली पर खरीदे गए सामानों, प्र्रापर्टी की वहीयों, बैंक पास बुकों, आभूषणों को भी पूजा. दीपावली की पूजन के बाद से नए वही खाते आरंभ कर दिए गए. लोगों ने अपने घरों एवं प्रतिष्ठïानों में प्रत्येक जगह दीपक जलाए.

आतिशबाजी
माता लक्ष्मी की पूजन के बाद लोगों ने आतिशबाजी की. इस वर्ष प्रदूषण बोर्ड के रात 10 बजे तक ही आतिशबाजी के आदेश थे. परन्तु उसके बाद भी अर्धरात्रि तक आतिशबाजी होती रही. बड़ी संख्या में लोगों द्वारा आसमानी रंगीन आतिशबाजी की गई. परन्तु इस वर्ष पहले की तुलना लोगों द्वारा प्रदूषण और महंगाई के कारण कम फटाखे फोड़े गए .

बधाईयां
दीपावली के पूर्व से ही लोगों द्वारा एक दूसरे को बधाई देने का तांता प्रारंभ हो गया था. पूजन पाठ के बाद लोगों ने एक दूसरे के घर मिठाई दे बधाईयां दी. दूसरे दिन भी बधाईयां देने का सिलसिला जारी रहा. गुरूवार को $गृह मंत्री बाबूलाल गौर, मंत्री उमाश्ंाकर गुप्ता, महापौर आलोक शर्मा, विधायक विश्वास सारंग, विधायक रामेश्वर शर्मा, विधायक विष्णु खत्री सहित अन्य नेताओं के घर बधाई देने वाले लोगों का दिनभर तांता लगा रहा. प्रत्येक जनप्रतिनिधियों द्वारा बधाई देने वाले लोगों को मिठाईयां खिलाई गई.

Related Posts: