modi1नई दिल्ली, 15 फरवरी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में ऊर्जा क्रांति लाने पर जोर देते हुए कहा ग्लोबल वॉर्मिंग से निपटने में दुनिया का नेतृत्व करने के लिए भारत के पास पर्याप्त शक्ति और संसाधन हैं. उन्होंने गैरपरंपरागत ऊर्जा पर जोर दिया और कहा कि अब भी लाखों लोग अंधेरे में रह रहे हैं, लेकिन कुछ लोग मुफ्त बिजली देने का वादा कर रहे हैं. प्रधानमंत्री ने सोलर ऊर्जा और विंड एनर्जी की जरूरत बताई और कहा कि किसानों की समस्याओं पर ध्यान देना होगा.

मोदी ने दिल्ली में तीन दिवसीय नवीकरणीय ऊर्जा वैश्विक निवेशक सम्मेलन व एक्सपो (री-इन्वेस्ट) का उद्घाटन करते हुए कहा, ‘यदि कोई एक ऐसा देश है, जो दुनिया को यह दिखा सके कि ग्लोबल वार्मिंग का मुकाबला किस तरह से किया जाए तो वह भारत है.

Related Posts: