bpl1भोपाल,  राजधानी में स्थित दृष्टिहीन बच्चों के छात्रावास नेशनल एसोसिएशन में लायंस क्लब के सदस्यों ने वेलेंटाइन—डे का आयोजन किया. जिसमें बच्चों को इस प्यार के दिन में सदस्यों द्वारा प्यार देने की कोशिश की गई. साथ ही उनके साथ भोजन कर उनको खुश करने की कोशिश की गई.

संस्था में वर्तमान में 41 बच्चे रहते हैं. बच्चों के साथ वक्त गुजारते हुए उनको प्रेरणा दायक कहानियां भी सुनाई. दृष्टिहीन बच्चे भी मेहनत करने पर एक अच्छा मुकाम हासिल कर सकते है. इसका उदाहरण देने के लिए क्लब ने डॉ. दिव्यता गर्ग और उनके पति डॉ. अमित गर्ग को भी कार्यक्रम में आमंत्रित किया. जिन्होंने दृष्टिहीन होने के बावजूद न सिर्फ काफी पढ़ाई—लिखाई की, बल्कि अपनी मेहनत की बदौलत आज अच्छा खासा जीवन भी व्यतीत कर रहे हैं. कार्यक्रम में लायंस क्लब के हरिप्रसार शिवहरे, विजयश्री शिवहरे, सीमा अग्रवाल, विजय जैन, सुयश कुलश्रेष्ठ, अभिनंदन श्रीवास्तव भी उपस्थित रहे.

Related Posts: