भोपाल, 4 दिसंबर. फिल्म अभिनेता देवानंद के निधन पर उन्हें कई वरिष्ठजनों ने श्रद्घांजलि अर्पित की है. राज्यपाल रामनरेश यादव ने हिन्दी फिल्म जगत के शीर्ष अभिनेता और निर्माता-निर्देशक देवआनन्द के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए उनके प्रति हार्दिक श्रद्धांजलि अर्पित की है.

राज्यपाल यादव ने कहा है कि देश ने एक बड़ा फिल्मकार खो दिया है. देवआनन्द विशिष्ट अभिनय शैली के धनी थे. वे फिल्म विधा के अपने-आप में एक सम्पूर्ण संस्थान थे. ‘गाइड’, ‘हम दोनों’, ‘काला पानी’, ‘जॉनी मेरा नाम’ और ‘हरे रामा-हरे कृष्णा’ जैसी फिल्में भारतीय फिल्मों के इतिहास में मील के पत्थर के रूप में सदैव दर्ज रहेंगी. उनकी फिल्में कर्ण प्रिय संगीत और मधुर गीतों के लिये जानी जाती हैं.

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने अपने शोक संदेश में चौहान ने कहा कि असाधारण अभिनय क्षमता वाले देवांनद के निधन से भारतीय सिनेमा के एक स्वर्णिम अध्याय का अंत हो गया. उन्होंने कहा कि संदेश प्रधान फिल्मों के माध्यम से वे हमेशा याद आयेंगे. चौहान ने दिवंगत आत्मा की शांति और शोकाकुल परिजनों को यह दुख सहने की शक्ति देने की ईश्वर से प्रार्थना की है. संस्कृति मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने भारतीय सिनेमा के महान कलाकार देव आनंद के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है. आज यहां जारी अपने शोक सन्देश में उन्होंने कहा है कि देव आनंद भारतीय सिनेमा के एक ऐसे विरले और विलक्षण कलाकार थे जिन्होंने छह दशक से भी ज्यादा समय तक निरन्तर अपनी असाधारण ऊर्जा का परिचय देते हुए फिल्म निर्माण और निर्देशन किया तथा अभिनय में यशस्वी प्रतिमान अर्जित किये.

उल्लेखनीय है कि संस्कृति मंत्री शर्मा ने दो माह से भी कम समय पहले मुम्बई में देव आनंद को राष्ट्रीय किशोर कुमार सम्मान से विभूषित किया था. नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने सुप्रसिद्घ अभिनेता देव आनंद के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि उनके चले जाने से सिनेमा के एक युग का अंत हो गया. उस वक्त की याद करते हुए शर्मा ने कहा कि देव साहब उस समय भी स्वस्थ, स्फूर्त और अगली फिल्म बनाने के लिए तैयार थे. ऐसा लग नहीं रहा था कि अचानक इस तरह वे चले जायेंगे. शर्मा ने कहा कि भारतीय सिनेमा और दर्शक उनके योगदान को कभी भुला न पायेंगे, लाखों-करोड़ों दर्शकों की स्मृतियों में देव साहब सदैव अमर रहेंगे. देव आनंद के निधन पर संस्कृति संचालनालय, मध्यप्रदेश संस्कृति परिषद एवं सभी सम्बद्ध अकादमियों ने भी गहन शोक व्यक्त किया है. संस्कृति विभाग ने उन्हें अभिनय के क्षेत्र में वर्ष 2010-11 के राष्ट्रीय किशोर कुमार सम्मान से विभूषित किया था.

Related Posts: