देवास,  मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में किसानों और पुलिस की झड़प और गोलीबारी में छह किसानों की मौत के बाद आज किसान संगठनों के प्रदेश बंद के दौरान देवास जिले में आंदोलनकारियों ने एक निजी यात्री बस को फूंक दिया। बागली और हाट पिपल्या थाने में आग लगा दी गई। जिले में कई स्थानों पर तोड़फोड़ और वाहन जलाने के समाचार मिले हैं।

पुलिस सूत्रों के अनुसार भौरासा थाना क्षेत्र के नेवरी फाटा पर प्रदर्शन कर रहे लोगों ने भोपाल से इंदौर जा रही एक यात्री बस को रोक लिया। उसमें तोड़फोड़ करने के बाद उसे आग के हवाले कर दिया गया। बस यात्री खेतों में तितर-बितर हो गए।

यहां लगभग आधा दर्जन अन्य वाहन भी जला दिए गए। इसके बाद भोपाल इंदौर मार्ग में देवास बायपास और उज्जैन मार्ग को बंद कर दिया। निजी बस संचालकों द्वारा भोपाल-इंदौर के बीच आज सभी बस सेवाओं को रद्द किए जाने की सूचना है।

आंदोलनाकरियों ने हाट पिपल्या थाने में फायर ब्रिगेड की गाड़ी, पुलिस की 15 बाइक, जब्ती की लगभग सौ बाइक, एक ट्रक, तीन बस और 20 अन्य बड़े वाहनों को आग के हवाले कर दिया। वहीं बागली थाने में भी आगजनी की गई। वहां पुलिस के आवासीय मकानों में आग लगाई गई।

सूत्रों ने बताया कि चापड़ा चौकी में डायल-100 वाहन, एक डंपर और बसों में तोड़फोड़ की गई। वहां कई दुकानों में भी तोड़फोड़ की जानकारी मिली है। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने बागली के अनुविभागीय दंडाधिकारी और पुलिस अनुविभागीय अधिकारी के वाहनों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया।

Related Posts: