gandhiji

मोहनदास करमचंद गांधी
ऐसा नाम।
जिसके अंदर निहित है
सत्य-अहिंसा-धाम।।
गांधीजी का लक्ष्य था
जन-जन का उत्थान।
छोटा हो अथवा बड़ा
सबका हो सम्मान।।
गांधीजी की नीति थी
सर्व धर्म समभाव।
जिसकी मूल विशेषता
मानवता का भाव।।
शास्त्रीजी का जीवन था
शुभ का पर्याय।
कर्मयोग के ग्रंथ में
जनहित का अध्याय।।
2 अक्टूबर इसीलिए
लगता मंगल पर्व।
सच में गांधी-शाी
देश के दोनों गर्व।।

– अजहर हाशमी

Related Posts: