23cpr1भोपाल, 23 अप्रैल. मुख्य अतिथि राज्य के गृह मंत्री बाबूलाल गौर ने राज्य के संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री सुरेंद्र पटवा की गरिमामय उपस्थिति में 107वीं वाहिनी द्रुत कार्यबल मुख्यालय हिनौतिया (बंगरसिया) के एमटी गैरेज व वर्कशॉप तथा महिला अधीनस्थ अधिकारी मेस का उद्ïघाटन किया.

इस अवसर पर भोपाल एवं रायसेन के प्रशासनिक तथा पुलिस के वरिष्ठï अधिकारियों के साथ-साथ अन्य गणमान्य व्यक्तियों व वाहिनी के अधिकारियों एवं जवानों ने उद्ïघाटन समारोह में भाग लिया. इस अवसर पर गृह मंत्री बाबूलाल गौर ने द्रुत कार्यबल के कार्य को अत्यंत कठिन कार्य करार देते हुये उन्होंने बल को नारायणी सेना की संज्ञा दी. साथ ही बल को तप, यज्ञ और दान से परिपूर्ण बताया. उन्होंने कहा कि ङ्क्षहसक आंदोलन, दंगा, प्राकृतिक या मानव निर्मित आपदाओं के समय द्रुत कार्यबल खुद को संकट में डालकर जान-माल तथा जनता की सुरक्षा करती है.

अपने ज्ञान, कौशल और शस्त्रास्त्रों का अनुशासन के साथ प्रयोग करते हुये मानव अधिकारों का भी ध्यान रखती है, जो कि देश के प्रति द्रुत कार्यबल की एक अत्यंत महत्वपूर्ण सेवा है. उन्होंने केंद्रीय पुलिस कैंटीन में सामग्री पर से वैट हटाने हेतु प्रयास करने का वचन दिया.

साथ ही कैम्प से लगी हुई सड़क को पक्का कराने हेतु आश्वासन दिया. इस मौके पर सुरेंद्र पटवा ने द्रुत कार्यबल के कार्यों की प्रशंसा की तथा उक्त कार्यों को पूर्ण करवाने का आश्वासन दिया. कार्यक्रम में पी.के. पांडेय पुलिस महानिरीक्षक केंरिपु बल, एमपी सेक्टर द्वारा बाबूलाल गौर (गृह मंत्री म.प्र. सरकार) मुख्य अतिथि व सुरेंद्र पटवा संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री म.प्र. सरकार को स्मृति चिन्ह भेंट किया.

Related Posts: