shivrajमध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए कहा कि देश ने एक युगदृष्टा खो दिया है। कलाम के निधन पर उन्होंने राज्य में सात दिन के राजकीय शोक की घोषणा की।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मिसाइलमैन के रूप में प्रसिद्ध दिवगंत डॉ. कलाम एक ऐसे महापुरुष थे, जिनके पास भारत के विकास को लेकर व्यापक दृष्टि और सोच थी। उन्होंने वर्ष 2020 तक भारत को पूर्ण विकसित राष्ट्र बनाने का न केवल सपना देखा, बल्कि उसकी ठोस रूपरेखा भी सामने रखी। उन्होंने आगे कहा कि साधारण पारिवारिक पृष्ठभूमि से होते हुए भी डॉ. कलाम अपनी प्रतिभा और परिश्रम से देश के सर्वोच्च पद पर आसीन हुए।

Related Posts: