pic2नई दिल्ली,  देश में असहिष्णुता के माहौल के खिलाफ कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस के अन्य नेताओं ने मंगलवार को संसद भवन से राष्ट्रपति भवन तक मार्च किया। कांग्रेस नेताओं ने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से असहिष्णुता के माहौल पर रोक लगाने के लिए अपने संवैधानिक अधिकारों का इस्तेमाल करने की मांग की।

सोनिया-राहुल और कांग्रेस के अन्य नेताओं ने राष्ट्रपति से गुजारिश की कि राष्ट्र का प्रमुख होने के नाते उन्हें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि देश में सांप्रदायिक ध्रुवीकरण और असहिष्णुता के माहौल पर रोक लगे। देश बंटे नहीं। संसद भवन से राष्ट्रपति भवन तक मार्च करने वाले शिष्टमंडल में कांग्रेस कार्य समिति के सदस्य, एआईसीसी के महासचिव, पदाधिकारी और पार्टी के सांसद शामिल थे। यह शिष्टमंडल राष्ट्रपति मुखर्जी से मिला। देश में कथित रूप से बढ़ते असहिष्णुता के खिलाफ लेखकों एवं कलाकारों द्वारा अपना पुरस्कार लौटाए जाने के बाद कांग्रेस ने यह मार्च किया है। सोनिया गांधी की राष्ट्रपति से मुलाकात की। उनकी यह मुलाकात करीब आधे घंटे चली जिस दौरान समझा जाता है कि दोनों ने वर्तमान राजनीतिक स्थिति पर चर्चा की।