सड़क सुरक्षा क्रियान्वयन समिति की बैठक संपन्न

भोपाल,

राज्य सड़क सुरक्षा क्रियान्वयन समिति की सोमवार को मंत्रालय में हुई बैठक में यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों द्वारा पुनरावृत्ति करने पर कड़ी कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं.

अपर मुख्य सचिव गृह के.के. सिंह की अध्यक्षता में संपन्न इस बैठक में प्रमुख सचिव परिवहन एस. एन. मिश्रा, परिवहन आयुक्त शैलेन्द्र श्रीवास्तव, अतिरिक्त महानिदेशक, यातायात, विजय कटारिया सहित लोक निर्माण, स्वास्थ्य, नगरीय प्रशासन, वाणिज्यिक कर विभाग के अधिकारी उपस्थित थे.

बैठक में जुलाई से सितंबर 2017 की अवधि तक शराब पीकर वाहन चलाने वाले 1405 चालकों के लायसेंस निलंबित किए गए, इसी प्रकार जनवरी से सितंबर 2017 की अवधि में कुल 5 लाख 40 हजार 161 वाहन चालकों पर बिना हेलमेट के वाहन चलाने के कारण चालानी कारवाई की गई.

दुर्घटना संभावित क्षेत्रों (ब्लेक स्पॉट) के परिशोधन के लिए की गई कार्यवाही की भी बैठक में समीक्षा की गई. लोक निर्माण विभाग, सड़क विकास निगम तथा एनएचएआई को उनके क्षेत्राधिकार के ब्लैक स्पॉट के परिशोधन की कार्यवाही समय-सीमा में करने के निर्देश दिए गए.

बैठक में जानकारी दी गई कि 32 जिलों में ट्रामा सेंटर कार्यशील हैं. इसके साथ ही, वर्ष 2017-18 में 9 जिलों में निर्माणाधीन ट्रामा सेंटर में से 6 जिलों में ट्रामा सेंटर के भवन निर्मित हो चुके हैं. शेष 3 जिलों में मार्च 2018 तक भवनों का निर्माण पूर्ण कर लिया जायेगा.

बैठक में अपर मुख्य सचिव गृह श्री के.के. सिंह ने ट्रामा सेंटर्स में आवश्यक उपकरण तथा डाक्टरों की उपलब्धता तत्काल सुनिश्चित करने के निर्देश दिए.

राज्य सड़क सुरक्षा क्रियान्वयन समिति में ओबेदुल्लागंज-बैतूल मार्ग, लालघाटी चौराहा एवं एयरपोर्ट रोड के मध्य फ्लाई ओवर निर्माण की स्थिति की जानकारी ली गई. बैठक में जिला-स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की प्रति-माह बैठकें किए जाने के निर्देश भी दिए गए.

Related Posts: